भाई की लंबी उम्र की कामना के लिए बहनों ने मनाया भैया दूज पर्व

भाई की लंबी उम्र की कामना के लिए बहनों ने मनाया भैया दूज पर्व

 

 

स्वतन्त्र प्रभात

 

मसकनवां गोण्डा

पांच दिवसीय दीपोत्सव के 5वें दिन मंगलवार को देश भर में भाई दूज का त्योहार मनाया गया। भाई दूज कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया को मनाया जाने वाला पर्व है। बहनें अपने भाइयों को तिलक लगाकर उनकी लंबी आयु और सुख समृद्धि की कामना करती हैं। भाई शगुन के रूप में बहन को उपहार भेंट करता है। भाई दूज के दिन मृत्यु के देवता यमराज का पूजन भी होता है। धार्मिक मान्यता है कि यमराज ने भी इसी तिथि को अपनी बहन यमुना से आशीर्वाद लिया था। भाइयों द्वारा बहनों से आशीर्वाद लेने के बाद यथासंभव उपहार दिया जाता और बहनों के हाथों से भोजन ग्रहण किया जाता है। इस दिन भाई बहन एक दूसरे को विश करते हैं।

शास्त्रों में भाई दूज से जुड़ी कथा का वर्णन नारी सम्मान के रूप में किया गया है।परंपरा का निर्वाह करते हुए भाई को अपनी बहनों के घर जाना चाहिए। टीका की रस्म के बाद बहनों के हाथ का पका हुआ भोजन ग्रहण करना चाहिए। फिर अपनी सामर्थ्य के अनुसार , वस्त्र, मिष्ठान आदि भेंट कर बहनों का आदर करना चाहिए। इसका निर्वहन आज भी लोग पूरे मनोयोग से करते आ रहे हैं।

Comments