राज्य महिला आयोग की सदस्य अनीता सिंह ने सुनी महिलाओं की समस्याएं 

राज्य महिला आयोग की सदस्य अनीता सिंह ने सुनी महिलाओं की समस्याएं 

               रिपोर्टर - उमेश दुबे

ज्ञानपुर भदोही -

आज जनपद भदोही मे सदस्य, राज्य महिला आयोग उ०प्र०अनीता सिंह ने आज राजकीय गेस्ट हाउस ज्ञानपुर में महिला उत्पीड़न जनसुनवाई,समीक्षा बैठक करते हुए कहा कि पीड़ित महिलाओं को न्याय दिलाना आयोग की सर्वोच्च प्राथमिकता है।

मा० सदस्य, राज्य महिला आयोग उ०प्र० अनीता सिंह ने बैठक कर प्रेस कान्फ्रेन्स प्रिन्ट,इलेक्ट्रानिक मीडिया के बन्धुओं को बुलाकर लगाये गये पुलिस प्रशासन के नामित अधिकारियों की कार्यशैली से नाखूस दिखी।

उन्होने कहा कि ये शिकायत जिलाधिकारी,पुलिस अधीक्षक महोदय तक पहुॅच जाये कि प्रशासनिक अधिकारीगण कार्य में रूचि न ले रहे है।

जिससे की प्रार्थना पत्रों का शिकायत समय से नही किया जा रहा है। इस अवसर पर मा० सदस्य ने पीडित महिलाओं से उनकी समस्याओं के प्रत्येक पहलुओं के विषय में विस्तृत जानकारी प्राप्त करते हुए सीओ० व इंस्पेक्टर महिला थाना को सभी मामलों की प्राथमिकता के आधार पर जांच करने के निर्देश दिये।

जनसुनवाई में कुल 27 पीड़ित महिलाओं ने अपनी समस्याओं से मा० सदस्य को अवगत कराया, जो अधिकतर घरेल हिंसा, ससुराल वालों द्वारा घर से निकाल दिये जाने व दहेज आदि से सम्बन्धित थे। मा० सदस्य द्वारा कुल 27 मामलों में से 22 मामलों का समझौता कराया गया तथा 5 मामलो पर अग्रित कार्यवाही हेतु सम्बन्धित पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया गया।

महिला उत्पीड़न के कितने पंजीकृत मामले दर्ज है, जो मामले दर्ज है क्या कार्यवाही की गयी, थानेदार अगली बैठक में सूची उपलब्ध कराये।

महिला उत्पीड़न के प्रकरणों को गम्भीरता से ले, यह भी कहा कि महिला उत्पीड़न होने से मान सम्मान का हनन होता है।

कितनी आहत होती है मन से आपमान जनक से गुजरती है, कि संवदेना को समझे, ऐसे मामलों मे रूचि लेकर समय से निस्तारण कराये ताकि समाज में अच्छा संदेश जाये।

इस अवसर पर अपर उपजिलाधिकारी रमेश कुमार, ट्रेनिंग अपर उपजिलाधिकारी अजय मिश्रा, पुलिस क्षेत्राधिकारी ज्ञानपुर कालू सिंह, जिला प्रोवेशन अधिकारी महेन्द्र यादव, महिला थानाध्यक्ष शोभा पाण्डेय, एवं सम्बन्धित अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

Comments