सुनारी के नाम पर गरीबों को लाखों का चूना लगाकर युवक फरार

सुनारी के नाम पर गरीबों को लाखों का चूना लगाकर युवक फरार

सुनारी के नाम पर गरीबों को लाखों का चूना लगाकर युवक फरार

स्वतंत्र प्रभात लखनऊ-


राजधानी लखनऊ में टप्पेबाजों की भरमार सी हो गई है। आए दिन विभिन्न प्रकार से टप्पे बाजी की घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं। दिन प्रतिदिन कोई न कोई ब्यक्ति टप्पेबाजों का शिकार हो रहा है।

सूत्रों द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि लखनऊ के अलावा कई अन्य शहरों में काफी दिनों से सक्रिय सुनारी का काम करने वाला यह युवक भोली भाली गरीब जनता को सोने चांदी के जेवरात कम कीमत पर दिलाने के नाम पर ठगी का शिकार बनाता है, पीड़ितों ने बताया कि इस युवक का नाम शुभम श्रीवास्तव उर्फ सोनी है। जो वार्ड नंबर 8 पूर्व बाजार गोसाईं गंज,लखनऊ का मूल निवासी है।

लोगों ने बताया कि वह इस वक्त गाजीपुर थाना क्षेत्र स्थित विकास भवन लखनऊ में अपने चाचा संतोष कुमार श्रीवास्तव के पास रहकर विभिन्न क्षेत्रों में घूम टहल कर लोगों को अपना शिकार बना रहा है। इस युवक ने पहले भी काफी ग़रीबों को सस्ते में जेवरात दिलाने के नाम पर लाखों का चूना लगाया और फरार हो गया। उपरोक्त ब्यक्ति दिन भर शहर में घूम-टहल कर अपना शिकार तलाशता है।

वहीं सूत्रों द्वारा जानकारी मिली है कि इस ब्यक्ति के कई अपराधियों से संपर्क है। जो अपराधियों द्वारा चोरी तथा लूटे हुए जेवरात को अच्छी कीमत पर बिकवाने के लिए अपने परिचित दुकानदारों के पास ले जाता है। माल बिकवाने के कुछ दिन बाद ही दुकानदारों के पास पहुंच कर बताता है कि अपराधी पकड़ गया है। और उसे छोड़ने के लिए पुलिस मोटी रकम मांग रही है।

कुछ पैसा ब्यवस्था करके दो नहीं तो उस अपराधी के साथ तुम भी जेल जाओगे और तुम्हारी दुकान भी बंद हो जाएगी। इस तरह डरा धमका कर उपरोक्त ब्यक्ति कई दुकानदारों से लाखों रुपए ऐंठ चुका है। तथा इस ब्यक्ति के द्वारा पुलिस की छवि को भी धूमिल किया जा रहा है। 
 
 वहीं  ताजी जानकारी मिली है कि यह आरोपी ऑटो संख्या यूपी 32 जीएन 4585 मुंशी पुलिया से चारबाग तक चलाता है। रात में सवारियों को भी अपना शिकार बनाता है। खाली समय पर शालीमार चौराहे पर बैठकर लोगों को ठगी का शिकार बनाता है। आप लोगों को बताना चाहता हूं कि यह व्यक्ति यदि कहीं दिखाई दे तो तुरंत पुलिस को सूचित करें। 
           
       

इस खबर को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। ताकि कोई और गरीब व्यक्ति या दुकानदार इस जालसाज का शिकार न हो सके।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments