अपने विकास की राह देखता ब्लॉक मुख्यालय अहिरोरी

अपने विकास की राह देखता ब्लॉक मुख्यालय अहिरोरी
  • सरकारी अस्पताल होने के कारण सैकड़ों मरीज भी प्रतिदिन आते हैं यहां

हरदोई/ बघौली ।

विकास खंड मुख्यालय अहिरोरी की जनता अब भी विकास कार्यों से वंचित है इस गांव में लापरवाही का आलम या है कि इस गांव में कई गलियों में नाली और खड़ंजा तक नहीं लगा है जबकि विकास खंड मुख्यालय और सीएचसी होने के नाते इस गांव में जिला स्तर के अधिकारियों से लेकर जनप्रतिनिधियों तक का प्रतिदिन आना जाना लगा रहता है

लेकिन इस गांव के विकास पर किसी भी अधिकारी की आज तक नजर नहीं पड़ी है इस गांव की गलियों की हालत बहुत ही दयनीय है जिनमें की खड़ंजा तक ग्रामीणों को नसीब नहीं हुआ है नालियों की हालत तो और भी खराब है जिससे बरसात के दिनों में हर वर्ष जलभराव की स्थिति बहुत ही भयावह हो जाती है ब्लॉक मुख्यालय होने के साथ-साथ यहां सरकारी अस्पताल भी है

जिसमें की ब्लॉक स्तर के सैकड़ों मरीज प्रतिदिन आते रहते हैं जिससे उनको भी भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है यहां के ग्राम प्रधान हरि किशोर लाला जिले के जाने-माने राजनीतिज्ञ भी है

लेकिन इनका ध्यान अपनी ही ग्राम सभा के विकास कार्यों पर नहीं जा रहा जबकि सरकार प्रदेश के सभी गावों में इंटरलॉकिंग और आरसीसी आदि डलवाने का कार्य कर रही है जिससे कि ग्रामीणों को आवाजाही या जल निकासी की समस्याओं का सामना न  पड़ेलेकिन इस गांव में कई गलियों में खड़ंजा तक नहीं लगा है और टूटी-फूटी नालियों की मरम्मत तक नहीं करवाई गई है

जिससे कि ग्रामीणों को जलभराव की समस्याओं का सामना करना पड़ता है विकास खंड मुख्यालय व सरकारी अस्पताल होने के कारण लगभग प्रतिदिन कोई न कोई जिला स्तर तक का अधिकारी यहां आता रहता है लेकिन किसी ने भी इस ओर ध्यान देना मुनासिब नहीं समझा गांव में कोई भी समुचित जल निकासी का साधन नहीं है जिससे कि बरसात का पानी इन्हीं गलियों में भरा रहता है

ग्रामीणों के अनुसार ग्राम प्रधान और ग्राम पंचायत अधिकारी इसओर कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं जिससे कि आम जनजीवन पर बहुत ही बुरा प्रभाव पड़ रहा है बरसात में जलभराव होने से बीमारियों का खतरा भी बढ़ता जा रहा है ग्रामीणों ने मांग की है कि गांव की नालियों की तत्काल मरम्मत करवाकर जल निकासी का समुचित प्रबंध कराया जाए और गलियों में खड़ंजा लगवाया जाए।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments