कुशीनगर स्वास्थ्य सेवाओं में हुई लापरवाही तो तनख्वाह पर लग जायेगी रोक:डीएम

कुशीनगर स्वास्थ्य सेवाओं में हुई लापरवाही तो तनख्वाह पर लग जायेगी रोक:डीएम

 

 

कुशीनगर,उप्र।

 

 जनपद के समस्त प्रभारी चिकित्साधिकारी जननी सुरक्षा योजना अंतर्गत दिए जाने वाले लाभ हर हाल में शत प्रतिशत कराना सुनिश्चित करें अन्यथा नवम्बर माह का वेतन बाधित कर दिया जाएगा।

स्वास्थ्य सेवाओं की  महत्ता को समझते हुए इसके प्रति सौपी गई जिम्मेदारी को सभी संबंधित अपनी पूरी क्षमता के साथ निभाना सुनिश्चित करें और जो इसके लिए संभव हो वह प्रयास व्यक्तिगत तौर पर भी करें। 

स्वास्थ्य सेवाओं में अनदेखी बन सकती है घातक

 

स्वास्थ्य सेवाओं में किसी भी प्रकार की लापरवाही घातक सिद्ध हो सकती है,इसमें किसी प्रकार की अनदेखी न करें और अपने दायित्व का निर्वहन ईमानदारी से निभाते हुए जरुरतमंद को अपनी सेवा मुहैया करायें। इसमें किसी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नही की जायेगी।  

जिलाधिकारी डॉ0 अनिल कुमार सिंह ने उपरोक्त निर्देश  कलेक्ट्रेट सभागार में जिला स्वास्थ्य समिति, नियमित टीकाकरण तथा संचारी रोग नियंत्रण सहित स्वास्थ्य विभाग की संचालित अन्य योजनाओं की आहूत बैठक की अध्यक्षता के दौरान दिये।

उन्होने जननी सुरक्षा योजना के तहत लाभार्थियों तथा आशाओं का भुगतान तत्कालिक रुप से किये जाने का निर्देश देते हुए सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों की प्रगति संतोषजनक नही पाये जाने पर नाराजगी जताई तथा कार्य में सुधार लाये जाने का निर्देश दिया कहा कि एक सप्ताह के अन्दर कार्य में प्रगति परिलक्षित हो यह सुनिश्चित करे,अन्यथा कार्यवाही की जायेगी। उन्होने एक एक कर सभी संचालित योजनाओं की जानकारी लेते हुए सम्बंधित को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। 

डीएम ने कन्या सुमंगला योजना के तहत सभी से प्रगति की समीक्षा दौरान कमी पाये जाने पर कड़ी फटकार लगाते हुए शत प्रतिशत लाभार्थियों को योजना से लाभान्वित कराये जाने हेतु निर्देशित किया। 

इसी प्रकार मातृ मृत्यु की समीक्षा दौरान सभी चिकित्सा प्रभारियों को निर्देशित किया कि अधीनस्थों के साथ समीक्षा अवश्य करें, इसी प्रकार आयुष्मान योजना, टीकाकरण, राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम, नसबंदी, आंगनबाड़ी केंद्रों का भ्रमण, स्कूलों का भ्रमण,सहित  ग्राम स्वास्थ्य एवं स्वच्छता में समिति की ग्राम पंचायतो में उपलब्ध अन्टाइल्ड फन्ड का दुरुपयोग न हो इस पर प्रभावी अनुश्रवण किये जाने हेतु प्रभारी चिकित्साधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि यदि किसी प्रकार की अनियमितता इसमें पाई जाती है तो इसके लिये आप सभी उत्तदारदायी होगें।  परिवार कल्याण, अन्धता निवारण, टीकाकरण, क्षय रोग खोजी अभियान आदि स्वास्थ्य कार्यक्रमों की समीक्षा की गई।

आयोजित इस बैठक में मुख्य विकास अधिकारी आनंद कुमार,मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 सुदर्शन सोनकर,  सी0एम0एस0 बजरंगी पाण्डेय, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 एस0पी0 सिंह, ताहिर अली, जिला कार्यक्रम अधिकारी एस0के0 सिंह, जिला प्रोवेशन अधिकारी सहित अन्य सभी संबंधित अधिकारी व प्रभारी चिकित्साधिकारी आदि उपस्थित रहे।

Comments