विद्यार्थी परिषद के दो गुटों में हुई मारपीट, क्रॉस केस दर्ज

विद्यार्थी परिषद के दो गुटों में हुई मारपीट, क्रॉस केस दर्ज

विद्यार्थी परिषद के दो गुटों में हुई मारपीट, क्रॉस केस दर्ज


डकैती की धारा में मुकदमा दर्ज कर मारपीट में किया तरमीम


ललितपुर। Vikash tripathi / Arif khan

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के दो गुटों के बीच चर रही अंतर कलह आखिरकार शुक्रवार को पहलवान गुरूद्दीन महाविद्यालय में आयोजित बैठक में सामने आ गया। जहां बैठक के दौरान दो गुटों में मारपीट को गई,

इस मारपीट ने कुछ देर में राजनीतिक रूप ले लिया, पुलिस ने एक गुट की तहरीर पर दूसरे गुट के सदस्यों के खिलाफ डकैती की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जांच के उपरांत मारपीट की धारा में तरमीम कर दिया। तो वही पुलिस ने दूसरे पक्ष की तहरीर पर भी नामजद सहित कुछ अज्ञात आरोपियों के खिलाफ क्रॉस केस दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी है। सूत्रों की माने तो इस गुट वाजी की बजह कॉलेज संचालक व उसके पुत्रों को बताया जा रहा है। 


अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के झांसी विभाग संगठन मंत्री अजय कुमार यादव का आरोप है कि शुक्रवार दोपहर स्थानीय पहलवान गुरूद्दीन कालेज में परिषद की बैठक संचालित हो रही थी। इसी बीच अभिषेक पटैरिया, निमेष तिवारी, आशीष शुक्ला, अर्पित मोदी व अभिषेक शुक्ला अपने 15-20 साथियों के साथ बैठक में आकर संगठन मंत्री राहुल राजपूत, शिरोमणी लोधी और सोनम राजपूत के साथ मारपीट करने शुरू कर दी और छात्राओं से छेडख़ानी करते हुए

संगठन मंत्री अजय यादव के साथ मारपीट कर 1,735 रूपए और शिरोमणि लोधी के गले से करीब ढाई तौला सोने की चेन छीनकर कर चले गए। सदर कोतवाली पुलिस ने पीडित की तहरीर पर आरोपियों के खिलाफ डकैती की धारा में मुकदमा दर्ज कर  प्राथमिक जांच में  छेडख़ानी कर रूपए व सोने की चेन छीनने के आरोप फर्जी पाते हुए मामले को एकराय होकर मारपीट कर जान से मारने की धमकी देने का मुकदमा दर्ज किया है।


वहीं दूसरे पक्ष से एबीवीपी के पूर्व जिला संयोजक नमेष तिवारी पुत्र शांत कुमार तिवारी निवासी मुहल्ला तालाबपुरा ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि वह अपने छोटे भाई अभिषेक पटैरिया के साथ पहलवान गुरूद्दीन महाविद्यालय बैठक में शामिल होने गया था। बैठक खत्म होने के बाद अजय यादव, राहुल राजपूत, पारसनाथ यादव और महाविद्यालय के अध्यापक एकराय होकर अभिषेक पटैरिया को मारने लगे। जब निमेष बीच बचाव करने पहुंचा

तो कॉलेज संचालक पारसनाथ यादव ने बेसवाल का बल्ला व लोहे की रोड उठा कर अजय यादव को दे दिये जिसके बाद आरोपी अजय यादव ने जान से मारने की नियत से निमेष के सिर पर बेसवाल के बल्ले से प्रहार कर घायल कर दिया। पुलिस ने पीडित की तहरीर पर नामजद आरोपियों के खिलाफ एकराय होकर मारपीट कर धमकाने की धाराओं में क्रॉस केस दर्ज कर छानवीन शुरू कर दी है।

 

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments