नत्थीखेड़ा आत्महत्या प्रकरण

नत्थीखेड़ा आत्महत्या प्रकरण


नत्थीखेड़ा आत्महत्या प्रकरण
आरोपित पुलिस कर्मियों के खिलाफ ग्रामीणों ने दिए शपथ पत्र
तालबेहट।antim kumar jain

एक माह पूर्व पुलिस प्रताडऩा में से तंग युवक द्वारा आत्महत्या प्रकरण में सुसाईट नोट व मृतक के परिजनों के शिकायती पत्र पर पुलिस ने आरोपी चौकी इंचार्ज व एक सिपाही पर आत्महत्या को प्रेरित करने का मामला दर्ज कराया था। जिसमें आरोपी पुलिस कर्मी निलंबित भी चल रहे है। आत्महत्या प्रकरण केे आरोपित पुलिस कर्मियों ने अपने बचाव में गांव के कुछ लोगो के माध्यम से फर्जी तरीके से शपथ पत्र बना कर अपने प्रस्तुत किए। जिसकी जानकारी के बाद सेकडौ ग्रामीणों ने सीओ आफिस में हंगामा करते हुए झूठे कागजात तैयार करने बाले दलालो व आरोपित पुलिस कर्मियों पर कड़ी कार्यवाही की मांग को लेकर शिकायती पत्र दिए।
पूराकलां थाना क्षेत्र के ग्राम नत्थीखेड़ा, विरधा, उगरपुर, कंधारकलां से आए करीब एक सेकडा ग्रामीणों ने क्षेत्राधिकारी देवेन्द्र सिंह को दिए शिकायती पत्र में बताया कि नत्थीखेड़ा चौकी इंचार्ज राजकुमार निगम, सिपाही दिलेन्द्र ने तैनाती के दौरान दलालों केे माध्यम से क्षेत्र के निर्दोषों को जमकर उत्पीडऩ किया। इसके बाद गांव के ही उमाशंकर यादव के साथ पुलिस ने वेवजह मारपीट कर धन वसूली की। जिससे तंग युवक ने आत्मत्या कर ली थी तथा मरने के पूर्व सोसाईट लैटर में पुलिस उत्पीडऩ की कहानी बंया की थी। मगर आरोपित पुलिस कर्मियों को बचाने के लिए गांव के ग्राम प्रधान एवं एक दलाल द्वारा प्रधानमंत्री मोदी की योजना के नाम से आधार कार्ड फोटो आदि दस्तावेज लेकर हस्ताक्षर और अंगूठा निशानी लगाए गए। जिनका उपयोग उक्त लोगों द्वारा आरोपी दरोगा व सिपाही को बचाने के लिए किया जा रहा है। जिसकी निष्पक्ष जांच कर आरोपियों पर कड़ी कार्यवाही की जाए। इस दौरान करीब आधा सेकडा लोगों ने शपथ पत्र देते हुए साजिशकर्ता व आरोपी पुलिस कर्मियों पर कार्यवाही की मांग की। शपथ पत्र देने बालों में अंगद सिंह, देवी सिंह, संतोष, ध्यानी, रामनरेश, चंदन, देवी सिंह, ज्ञान सिंह, फूल सिंह सहित करीब आदि के शपथ पत्र सौपें गए।

Comments