प्यार पानें के लिए तुम्हे वजन घटाना पड़ रहा है, फिर तुम गलत रिश्ते में हो।

प्यार पानें के लिए तुम्हे वजन घटाना पड़ रहा है, फिर तुम गलत रिश्ते में हो।

स्वतंत्र प्रभात लाइफस्टाइल-

अगर प्यार पाने के लिए तुम्हें वज़न घटाना पड़ रहा है तो तुम गलत रिश्ते की ओर बढ़ रही हो कभी सामने से, कभी प्यार से बोलकर तुम्हार ब्वायफ्रेंड तुमसे कहेगा कि दुबली हो जाओ कभी मजाक में ताना मारेगा कि तुम दुबली हो जाओ । पर तुम उसकी  मत सुनना. निशा मेरी एक दोस्त है निशा की उम्र 24 साल है खूबसूरत सा चेहरा बिल्कुल चाँद जैसा, सुंदर आंखे बिल्कुल सागर की तरह अदाए जिसपे कोई भी फिदा हो जाए जब बोले तो सारे दर्द चलें जाये

लेकिन उसने एक गलती की है जिस लड़के के चक्कर में है जिससे वो प्यार करती है वो हमेशा उसके वजन को लेकर मजाक में और सीरियस में तानें मारता रहता है वो हमेशा उसको एहसास दिलाता रहता है कि वो मोटी है।

और वो ये भी दिखाता रहता है कि वो उसके मोटापे के साथ किसी तरह एडजस्ट कर रहा है निशा रोती है, परेशान रहती है और अपने मोटापे को कम करनें के लिए  तरह तरह के नुस्खे अपनाती है और साथ में ब्वायफ्रेंड के तानें को सुनकर चुप भी रहती है। 

कई लड़कियो को तो उनके घर वाले कहते है कि अगर वजन बढ़ जायेगा तो अच्छा लड़का नही मिलेगा आपकी जानकारी के लिए बता भारत सरकार की 2011 की जनगणना में 1000 पुरुषो पर 942 लड़कियां है ये बात बिल्कुल निश्चित है कि बचे 58 लड़के हर 1000 पर कुंवारें ही रहेंगे।

फिर भी कई लड़किया है जो खूबसूरत होने के बावजूद दो कौड़ी के ब्वायफ्रेंड के तानें सह रही है और घुट-घुट कर जी रही है । मैने कही पढ़ा था कि जुर्म करनें वाला पापी होता है लेकिन जुर्म सहने वाला महापापी होता है खैर कौन पापी है कौन महापापी है इसका निर्णय मैं आप पर छोड़ता हूँ।

इससे होता क्या है  लड़की थोड़ा और सिमट जाती है. थोड़ा और झुक जाती है. प्लेट से रोटी निकाल देती है. दिन भर पानी पीकर निकालने का प्रण लेती है. कार की बैकसीट पर बैठने से कतराती है. चुपचाप आगे बैठ जाती है. तस्वीरों में कॉर्नर में खड़े होने से डरती है कि चौड़ी न दिखे. काले कपड़े पहनकर संतोष पाती है कि इसमें तो पतली लग रही होगी. कपड़ों का साइज बढ़ता जाता है. और उसका खुद का आत्मविश्वास अंदर ही अंदर खत्म हो रहा होता है जिसका पता उसे खुद नहीं चलता है।

 

पहली नज़र का प्यार इंची टेप लेकर साथ घूमता है कोई उसको ये नहीं कहता कि खुद पर भरोसा रखो खुद से प्यार करना सीखो इन सबसे कुछ नहीं होता। लेकिन  लोगो की उम्मीद कुछ अलग ही होती है इन्हे चाहिए की कोई इन्हे प्रेम पत्र लिखे इनसे मिलने आये इनके बालों में उंगलिया फेर कर इनको सुलाये,इनकी डांट से डरने का नाटक करें।

ये लोगो की सबसे बड़ी समस्या है लेकिन इसमें हमारे देश के कवियो और चित्रकारों  का भी दोष कम नहीं इनकी कविताओं और चित्रकारियों में  प्रेम और दीवानगी छरहरी लड़कियों के लिए आरक्षित थे. काली, मोटी, नाटी लड़कियां 'अरेंज मैरिज' का इंतज़ार करती रहीं और अनजान व्यक्तियों से प्रेम में पड़ने के पहले उनके बच्चे अपनी कोख में पालना शुरू कर चुकी थीं.

 ज्यादातर लड़किया अपनी तुलना करीना कपूर सरीखी हिरोईनो से करती है जिनका  किसी जमाने में जीरो फीगर खूब मशहूर हुआ था लेकिन क्या आप जानती है कि आप भी वैसी हो सकती है बिल्कुल हिरोईन की तरह बिल्कुल माडल की तरह बस आपको कुछ काम करनें होंगे लेकिन सच बोलूं तो आप नहीं कर पातेंं है उसका कारण है कि न तुम्हारे पास पर्सनल जिम है न मेरे पास पर्सनल कोच और डाइट एक्सपर्ट नहीं हैं. हमारे पास कॉस्मेटिक सर्जरी की सुविधा नहीं है. जिसका जिक्र नायिकाएं कभी नहीं करतीं. नायिकाएं तुमसे कहेंगी कि तुम घी खाने से ग्लो करोगी. ऑलिव ऑइल में पका खाना खाने से छरहरी हो जाओगी. पपीता लगाकर उनके जैसी हो जाओगी. योग करने से 35 की उम्र में 25 की दिखोगी. शुभचिंतक तुमसे कहेंगे कि बस शादी के पहले घटा लो.

शादी के समय स्टेज पर सही दिखने के लिए. डॉक्टर से बुखार की दवाई लेने जाओगी तो भी वो कहेंगे कि वज़न घटा लो, सब ठीक हो जाएगा. घरवाले कहेंगे कि आने वाले बच्चे के लिए सही रहेगा. बॉयफ्रेंड कहेगा कि मैं तुमसे 'हर हाल' में प्यार करूंगा और ढेर सारा प्यारा करुंगा बस तुम प्लीज थोड़ा वजन कम कर लो तुम्हारी टांगे कितनी मोटी है इनको थोड़ी पतली कर लो बस

 क्योंकि आप प्यार में हर जतन करके थोड़ी पतली हो भी जाओगी और शादी कर लोगी। लेकिन पूरा जीवन इस डर से जियोगी कि अगर मैं मोटी हो गयी तो मेरा पति मुझसे प्यार नहीं करेगा क्योंकि परिवर्तन संसार का नियम है आज जैसी आप हो कल वैसी निश्चित नही रहोगी ।

 फिर वही तुम्हारा प्रिय ब्वायफ्रेंड से तुमसे बोलेगा  कि शादी के समय कैसी परफेक्ट थी. अब फसक के बोरी हो गई हो. डरोगी कि शादी नीरस हो जाएगी. सोचोगी कि पति प्यार करना बंद तो नहीं कर देगा. कभी सामने से, कभी थोडा मीठा होकर तुमको बोलेगा कि मोटापा कम करो.

जिस दिन तुम्हारा मोटापा तुम्हारे स्वास्थ्य पर असर डालने लगे, तुम बेशक दुबली हो जाना जो तुम्हारे 'भले के लिए' वज़न घटाने को कहें, जहां 'भले' का अर्थ किसी ड्रेस में फिट होकर 'खूबसूरत' दिखने का हो, तुम मत सुनना. क्योंकि कोई फैशन ब्रांड तुम्हारे स्वाभिमान का साइज़ तय नहीं करेगा. और जो प्रेम, जो रिश्ता तुम्हारे शरीर और चेहरे से तय होते हैं. उनपर थूकना. बार-बार........

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments