उपजिलाधिकारी राठ ने करायी चिकित्सालय की जाॅच, भारी मात्रा में मिली नाले में दवायें

उपजिलाधिकारी राठ ने करायी चिकित्सालय की जाॅच, भारी मात्रा में मिली नाले में दवायें

सरकार द्वारा लोगों को विभिन्न रोगों से बचाव के लिये सरकारी अस्पतालों में भेजी गयी लाखों रुपये कीमत की जीवन रक्षक दवा आज नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के परिसर के अन्दर बने नाले में पड़ी मिलने पर हड़कम्प मच गया।

आनन फानन लोगों में लोगों ने घटना की सूचना उच्चाधिकारियों से की। जिसपर मौके पर पहुंचे नायब तहसीलदार ने नाले से दवाओं को निकलवाकर उन्हें सीज कर उनकी जांच हेतु लखनऊ भेज दिया।

आज सुबह नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में उस समय हड़कम्प मच गया जब स्वास्थ्य केन्द्र परिसर में बने नाले के अन्दर लोगों ने लाखों रुपये की दवाओं का जखीरा पड़ा देखा। इस दवाओं में में अधिकांश की एक्सपाइरी डेट 2021 होने पर लोगों का पारा चढ़ गया और उन्होंने सपा युवजन सभा के जिलाध्यक्ष सत्यपाल सिंह यादव, समाज सेवी मलखान सिंह निषाद आदि के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग के खिलाफ नारेबाजी करते हुये इसकी जानकारी उपजिलाधिकारी राठ सुरेश कुमार पाल सहित उच्चाधिकारियों से कर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की।

इस दौरान जांच हेतु मौके पर पहुंचे नायब तहसीलदार धर्मेन्द्र पाल सिंह ने नाले से दवाओं को निकलवाकर सीज कर दिया और उन्हें जांच हेतु लखनऊ भेज दिया। उपजिलाधिकारी राठ सुरेश कुमार का कहना है कि जांच रिपोर्ट आने के बाद दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी।

वही सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र राठ के स्वास्थ्य केन्द्र अधीक्षक डॉ0 संतोष कुमार का कहना है कि यह सब सुनियोजित तरीके से स्वास्थ्य केंद्र को बदनाम करने का काम है। नाले में पड़ी दवाओं को बगैर स्वास्थ्य विभाग के चिकित्साधिकारियों की मौजूदगी में निकालना अपराध है।

 

Comments