दम घुटने से एक मजदूर और स्कूल संचालक की मौत शीरा के टैंक में गिरे हुयें को वचाने गया था दूसरा !

दम घुटने से एक मजदूर और स्कूल संचालक की मौत शीरा के टैंक में गिरे हुयें को वचाने गया था दूसरा !

 मैनपुरी यूपी 15 नवंबर 2019 

  • दो की मौत से गांव में गमगीन माहौल

मैनपुरी

गुरूवार की देर रात्रि शीरा में गिरे हुयें मजदूर को बचाने के लिए गयें स्कूल संचालक सहित मजदूर और स्कूल संचालक शीरा के टैंक में ही दम घुटने से मौत हो गई।

एक साथ हुई दो की मौत से गांव में गमगीन माहौल है। सूचना पर पहुंची पुलिस नें दोनो शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

भोगांव क्षेत्र के ग्राम परतापुर में 40 बर्षीय मजदूर कलक्टर सिंह उर्फ कादिर निवासी फर्रुखावाद गांव में ही बने शीरा के टैंक में गुरूवार की देर रात्रि 10 बजे के लगभग गिर गया। जिसकी चीख पुकार सुनकर गांव के ही स्कूल संचालक 30 बर्षीय धर्मेन्द्र कुमार उर्फ लला उसे बचाने के लिए शीरा के टैंक में गयें।

शीरा के टैंक में जहरीली गैस बन गई। जिसके परिणाम स्वरूप मजदूर और स्कूल संचालक की दम घुटने से मौत हो गई। रात्रि को ही घटनास्थल पर गांव के ग्रामीणों की भींड एकत्र हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस नें दोनो के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। एक साथ दो मौत !

जीवन साथी बने 47 नव युगल ,करहल मे संपन्न हुआ प्रधानमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम

एंकर प्रधानमंत्री सामूहिक विवाह योजना मध्य एवं निम्न वर्ग के लिए लाभदायक नजर आने लगा है प्रधानमन्त्री सामूहिक विवाह योजना में लोगों की बढ़ती रुचि उनकी आर्थिक एवं सामाजिक स्थिति को सुधारने में अहम योगदान साबित हो रही है

जनपद मैनपुरी की विभिन्न कस्बों में करहल वेवर कुराबली बेवर भौगाँव आदि कस्वो मे प्रधानमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत प्रशासन द्वारा सामूहिक  विवाह की धूम नजर आई कस्बा करहल के ब्लाक परिसर मे एक ओर जहां हिंदू समाज के नव युगल को सनातन धर्म की रीति रिवाज के अनुसार अग्नि को साक्षी मानकर फेरे लिए गए

तो वहीं दूसरी ओर मुस्लिम समाज के नव युगलो को मुस्लिम रीति रिवाज के अनुसार निकाह कबूल कराया गया शादी समारोह में शामिल होने आए बड़ी संख्या में नव युगल खासे उत्साहित दिखे  करहल में उप जिलाधिकारी क्षेत्राधिकारी ब्लाक प्रमुख नगर पंचायत के तमाम आला अधिकारियों ने नवयुवक दंपतियों को उपहार व प्रमाण पत्र प्रदान कर

उन्हें नए जीवन का शुभ आशीष देकर विदा किया  अपने पुत्र एवं पुत्रियों का विवाह संपन्न कराए कराने के लिए आए लोगों ने प्रधानमंत्री सामूहिक विवाह योजना को निर्धन एवं गरीब परिवारों के लिए सार्थक बताया है

 

 

Comments