जालौन कैरियर प्रोग्राम के द्वितीय सत्र का हुआ शुभारंभ

जालौन कैरियर प्रोग्राम के द्वितीय सत्र का हुआ शुभारंभ
  • डीएम व एसपी ने कैरियर प्रोग्राम के द्वितीय सत्र किया शुभारंभ

उरई (जालौन) दिन मंगलवार को राजकीय पुस्तकालय के सभागार में जालौन कैरियर प्रोग्राम के द्वितीय सत्र के प्रथम शिक्षण दिवस का उद्घाटन जिलाधिकारी महोदय मन्नान अख्तर द्वारा किया गया। उद्घाटन के कार्यक्रम में डॉ सतीश कुमार (पुलिस अधीक्षक) श्री भगवत प्रसाद पटेल (जिला विद्यालय निरीक्षक) श्री विकास कश्यप (उप जिलाधिकारी उरई) श्री कमलेश गुप्ता (खंड शिक्षा अधिकारी) उपस्थित रहे।

शिक्षक श्याम जी गुप्ता ने प्रथम सत्र को याद करते हुए बताया कि लगभग 300 से अधिक छात्र छात्राओं में से परीक्षा के माध्यम से 30 बच्चों का चयन आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग से किया गया था। जिनमें 9 छात्र-छात्राओं का चयन विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षाओं में हो गया है। जिनके नाम अशोक बाब, अमरदीप गौतम, राज नारायण, प्रशांत सक्सैना, प्रथम कुमार, बंदना बुंदेला है। प्रथम सत्र के दौरान जिले के विभिन्न विभागों के शीर्ष अधिकारियों में छात्राओं को मार्गदर्शन एवं दिशा दर्शन दिए गए तथा प्रोत्साहन के लिए पाठ सामग्री तथा पत्र पत्रिकाएं बाटी गई उप जिलाधिकारी श्री विकास कश्यप ने जोर देते हुए कहा कि छात्र-छात्राओं को पढ़ाई के साथ प्रश्नों के उत्तर लिखने पर ध्यान देना चाहिए। जिला विद्यालय निरीक्षक श्री भगवत प्रसाद पटेल ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देशन में चलने वाली कोचिंग जिसका उपयोग छात्र-छात्राएं एक प्लेटफार्म के रूप में कर सकते हैं। शिक्षण सत्र प्रारंभ करते हुए डॉ सतीश कुमार पुलिस अधीक्षक महोदय ने प्रतियोगिताओं से परीक्षा पैटर्न प्रश्नों की संरचना के बारे में बताया गया तथा कहा कि प्रतियोगी के जीवन में अनुशासन का विशेष महत्व है यदि छात्र छात्राएं नियमित रूप से 10 घंटे प्रतिदिन अध्ययन करें तो वह 2 से 3 वर्ष में आईएएस या आईपीएस बन सकता है।

उन्होंने कहा कि सभी में प्रशासनिक अधिकारी बनने की क्षमता होती है बशर्ते एक अनुशासन पूर्ण व्यवहार कर परीक्षा की तैयारी करें। जिलाधिकारी डॉ मन्नान अख्तर ने बच्चों से कहा कि जीवन में लक्ष्य निर्धारित कर पढ़ाई करनी चाहिए सफलता अवश्य मिलती है। उन्होंने यह भी कहा कि असफलता से घबराना नहीं चाहिए बल्कि अपनी कमियों को दूर करना चाहिए उन्होंने बच्चों को प्रतियोगी परीक्षा में सफल होने की शुभकामनाएं दी भारत विकास परिषद की ओर से बताया गया कि इस बार कोचिंग में 30 की जगह 50 बच्चों को चुना गया है कोचिंग की कक्षाएं शाम 5:00 बजे से 7:00 बजे तक चलेंगे मंच का संचालन का कार्य अजय टोलिया ने किया उन्होंने सभी आए हुए अतिथियों का आभार व्यक्त किया इस दौरान जालौन कैरियर प्रोग्राम के शिक्षक श्री महेंद्र रंजन अभी गुप्ता डॉ विजय कृष्णा गुप्ता मनीष पालीवाल कोमल सिंह शिवकुमार शर्मा सत्येंद्र चौहान सहित 60 से अधिक छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

 

Comments