नवागत एसपी ने किया अवैध असलहा फैक्ट्री का भण्डाफोड़, दो गिरफ्तार

नवागत एसपी ने किया अवैध असलहा फैक्ट्री का भण्डाफोड़, दो गिरफ्तार


भारी मात्रा में अवैध असलहे बरामद

बाराबंकी।

पुलिस अधीक्षक के सख्त तेवरों का असर उनके अधीनस्थ अधिकारियों और कर्मचारियों में होने लगा हैं उन्ही के आदेश के तहत बीती रात मसौली थाना प्रभारी ने मुखबिर की सूचना पर असलहा बनाने वाली एक फैक्ट्री का भण्डाफोड़ किया और भारी मात्रा में असलहों के साथ साथ दो लोगों को गिरफ्तार भी किया। पुलिस अधीक्षक ने इस गुडवर्क से खुश होकर पुलिस टीम को बधाई दी है।

जानकारी के अनुसार, जब से जिले की कमान युवा तेज तर्रार पुलिस अधीक्षक सतीश कुमार ने सम्भाली है उसके बाद से जिले के थाना प्रभारियों और प्रभारी निरीक्षकों में जैसे गुडवर्क करने की होड़ सी लग गयी है। आयेदिन कहीं न कहीं कोई न कोई थाना प्रभारी गुडवर्क करके अपने आपको सबसे ज्यादा तेज तर्रार दिखाने का प्रयास कर रहा है।

इसी क्रम में बीती रात मसौली थाना प्रभारी संतोष कुमार सिंह को मुखबिर ने सूचना दी कि ग्राम डंडियामऊ जंगल में अवैध असलहा बनाने का काम जोरों से चल रहा है। इसी सूचना पर थाना प्रभारी ने अपने अन्य सहयोगियों को साथ में लेकर छापा मारा और मौके पर से जनपद गोण्डा के थाना परसपुर के ग्राम रखसड़िया मांझा निवासी विक्रम यादव पुत्र स्व. भगवती यादव और थाना मसौली क्षेत्र के ग्राम रजपलिया निवासी रामनगीना पुत्र स्व. रामदेव को धर दबोचा।

थाना प्रभारी ने इनकी निशादेही पर जंगल में छिपाकर रखे गये भारी मात्रा में अवैध असलहे अर्ध निर्मित असलहे के साथ साथ कारतूस व अन्य सामान बरामद किया। प्रभारी निरीक्षक ने इन लोगों के पास से 2150 रुपये भी बरामद किये। पुलिस लाइन में आयोजित प्रेसवार्ता के दौरान पुलिस अधीक्षक डा. सतीश कुमार ने बताया कि पकड़ा गया मुख्य अभियुक्त विक्रम यादव ने वर्ष-2004 में थाना परसपुर में तैनात उपनिरीक्षक शेषमणि यादव पर गिरफ्तारी के दौरान जान से मार डालने के लिये फायर भी किया था।

पकड़े गये दोनो आरोपी शातिर बदमाश हैं। इन लोगों के विरुद्ध जनपद गोण्डा व थाना मसौली में कई गम्भीर धाराओं में मुकदमा दर्ज है। पुलिस अधीक्षक ने इस गुडवर्क से खुश होकर थाना प्रभारी व उनके सहयोगियों को ईनाम देने की घोषणा की।  
 

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments