सिपाही के खिलाफ दलित महिला ने लगाया उत्पीड़न का आरोप...

सिपाही के खिलाफ दलित महिला ने लगाया उत्पीड़न का आरोप...

मिल्कीपुर अयोध्या।

कुमारगंज थाने पर तैनात सिपाही की करतूतों के चलते खाकी एक बार फिर शर्मसार हो गई है। सिपाही की हरकतों से आजिज आकर थाना क्षेत्र की एक दलित महिला ने सिपाही पर अश्लील बातें करने सहित महिला के विरोध करने पर महिला कांस्टेबल बुलाकर पिटवाए जाने की धमकी दिए जाने का आरोप लगाया है। पीड़ित दलित महिला ने मन बढ़ एवं बेलगाम सिपाही के विरुद्ध शिकायती प्रार्थना पत्र पेश कर कार्यवाही किए जाने सहित जानमाल की सुरक्षा की गुहार की है।

 कुमारगंज थाने के बीट संख्या 2 पर सिपाही अनुपम गुप्ता की तैनाती है। थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत सराय धनेठी निवासिनी दलित महिला केसपती पत्नी श्रीनाथ पासी ने कुमारगंज थाने मे सिपाही के विरुद्ध  शिकायती प्रार्थना पत्र देते हुए मुकदमा कायम किए जाने की मांग की है।

महिला का आरोप है कि बीते 7 दिसंबर की शाम करीब 4 बजे थाने के सिपाही अनुपम गुप्ता उसके घर पहुंच गए थे। वर्दी के मद में चूर सिपाही ने महिला से अश्लील बातें शुरू कर दी जिस पर महिला ने विरोध जताया तब सिपाही आपे से बाहर हो गया और महिला के ही घर पर उसे जमकर भद्दी भद्दी गालियां देते हुए खूब अभद्रता की।

इससे भी जी नहीं भरा तो आपे से बाहर सिपाही अनुपम गुप्ता ने थाने से महिला कांस्टेबल बुलाकर उसे जमकर मरवाए व पिटवाए जाने की धमकी तक दे डाली। महिला का पति श्रीनाथ पासी जब देर शाम मजदूरी करने के उपरांत अपने घर वापस लौटा तो पीड़ित महिला ने अपने पति से सिपाही की सारी करतूत बयां किया। घटना के दूसरे ही दिन रविवार की अलसुबह पीड़ित महिला अपने पति के साथ शिकायती प्रार्थना पत्र लेकर थाने पहुंची और थानाध्यक्ष से रो-रोकर आपबीती बताई।

महिला ने थानाध्यक्ष को बताया कि सिपाही अनुपम गुप्ता ग्रामवासी सुरेश मिश्रा के  घर पर नियमित रूप से 3 से 4 घंटे बैठते हैं और देर रात वापस थाने को लौटते हैं। उन्हीं के इशारे पर पर सिपाही ने उनके साथ यह सब कृत्य किया है। कुमारगंज थानाध्यक्ष ने मामले में कार्यवाही किए जाने का भरोसा पीड़ित महिला को दिलाया और कहा कि मैं स्वयं जांच करने गांव आऊंगा। घटना के संबंध मेंथानाध्यक्ष अजय कुमार सिंह ने बताया कि शिकायती प्रार्थना पत्र मिला है।

जांच की जा रही है। फिलहाल समूचे थाना क्षेत्र में मन बड़ा और बेलगाम सिपाही के कारनामों की चर्चा जोरों पर है।

Comments