तालबेहट की टॉप खबर

तालबेहट की टॉप खबर

कोतवाली में मानवाधिकार का खुला उल्लघंन

  • दो दिन से बिना किसी शिकायत के बैठाया युवक को
  • पुलिस के उत्पीडऩ से तंग आकर किया भागने का प्रयास

ललितपुर। जनपद पुलिस ने इन दिनों सभी नियम कानून कोने में रख दिये हैं। पुलिस सिर्फ अपनी मनमानी करने में लगी है। भले कानून व मानवाधिकार यह कहता हो कि किसी भी आरोपी को 24 घण्टे से अधिक कोतवाली में नहीं रखा जायेगा।

लेकिन इसका पालन हो जब न, यहाँ पर तानाशाही है। पुलिस को जब जी चाहा किसी को भी उठा लिया, और एक दो दिन नहीं कई दिनों तक बैठा लिया। जब तक कि पूरा सौदा तय न हो जाये, सौदा न होने की दशा में उन्हें किसी मामले में जेल भेज दिया जाता है। ऐसा ही एक मामला कोतवाली सदर का प्रकाश में आया है। जहाँ पर दो दिन से अधिक समय से एक युवक को पूछताछ के लिए बैठाया गया, बाद में जब वह पुलिस के मानसिक उत्पीडऩ से तंग आ गये, तो उसने कोतवाली से भागने का निर्णय लिया। हालाँकि बाद में पुलिस ने उसे फिर पकड़ लिया। लेकिन बिना लिखा के कोतवाली में बैठाने का पुलिस का पास कोई भी जबाब नहीं है। 

जनपद की सदर कोतवाली इन दिनों जनता के शोषण का केन्द्र बन गयी है। यहाँ पर अपराधियों का तो स्वागत किया जाता है, किन्तु पीडि़तों को व निर्दोषों को तरह-तरह से मानसिक व शारीरिक यातनायें दी जाती हैं। ऐसे कई मामले में जब कि कोतवाली पुलिस व स्वॉट टीम कटघरे में खड़ी हो गयी। किन्तु आलाधिकारियों द्वारा कोई ठोस कार्यवाही न करने की दशा में उनका मनोबल बड़ा हुआ है। ऐसा ही मामला हालही में प्रकाश में आया है। सूत्रों की मानें तो बीते दो दिन पूर्व रात्रि में गल्ला मण्डी से कुछ अज्ञात लोग अनाज की चोरी कर रहे थे। जिसकी सूचना स्वॉट टीम को प्राप्त हुई तो वह मौके पर पहुंचे, जहां पुलिस आता देख चोर मौके से फरार हो गये। लेकिन माल को ले जानी वाली टैक्सी को छोड़ गये। इसके बाद खिरका पुरा निवासी एक युवक को पुलिस ने शक आधार पर पकड़ लिया और कोतवाली में बैठा लिया। दो दिन तक पुलिस पूछताछ करती रही, लेकिन किसी भी निर्णय पर नहीं पहुँची। लेकिन पुलिस प्रताणना से तंग आकर आरोपी ने कोतवाली से भागने का निर्णय लिया। वह इस प्रयास में कामयाब भी हो गया। लेकिन बाद में पुलिस ने उसे मुखबिर सूचना पर पकड़ लिया। भले ही युवक दो दिनों से कोतवाली में बैठा था, लेकिन उसका कोई भी रिकार्ट कोतवाली में दर्ज नहीं था। जो कि मानवाधिकार का सीधा उल्लघंन है। इसका पुलिस व आलाधिकारियों के पास कोई भी जबाब नहीं है। 

तार चोर को छोडऩे का भी आरोप
पुलिस महकमें एक चर्चा विगत कुछ दिनों से जोरेां पर है। कि स्वॉट व कोतवाली पुलिस की संयुक्त कार्यवाही के तहत रेलवे के तार चोरी करने वाली गैंग का मुख्य सदस्य हत्थे चढ़ गया था। लेकिन बाद में उसे छोड़ दिया गया। उसे किस कारण से छोड़ा गया इसके पीछे लम्बे लेन-देन की चर्चा है। हालाँकि इसकी अधिकारिक पुष्टि नहीं है, लेकिन पुलिस महकमें में ही नहीं शहर में भी पुलिस की इस कारगुजारी को लेकर चर्चा बनी हुई है। 

 

कहाँ गयी मण्डी से बरामद टैक्सी
सूत्रों की मानें तो जब गल्ला मण्डी में चोरों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस पहुंची। तो वहाँ से चोर तो भाग खड़े हुये, किन्तु वह जिस टैक्सी में माल ले जाने वाले थे। उसको वहीं छोड़ गये थे। वह टैक्सी कहां है, या फिर उस टैक्सी का क्या किया, इसका कोई अता-पता नहीं है। 

 

अनाज चोरी की कोई नहीं है शिकायत
भले ही पुलिस पूछताछ के लिए पकड़े गये आरोपी को अनाज चोर बता रही हो, किन्तु गल्ला मण्डी में पिछले 15 दिनों से अधिक समय हो गया है, जिसमें अनाज चोरी की कोई शिकायत नहीं की गयी है। न ही गल्ला मण्डी के व्यापारियों को व अन्य कमेटी सदस्यों को खबर है। ऐसे में माना जा रहा है कि पकड़े गये आरोपी को पुलिस किसी अन्य मामले में भी जेल भेज सकती है। या फिर व्यापारियों पर दबाब बना कर शिकायतपत्र भी लिखा सकती है। 

 

कोतवाली में मानवाधिकार के नियमों का नहीं हो पालन
इन दिनों कोतवाली में हिटलर शाही बनी हुई है। यहाँ पर मानवाधिकार के नियमों को खुला उल्लघंन किया जा रहा है। किसी भी व्यक्ति को कभी भी कोतवाली में बुला कर बैठा लिया जाता है। वर्तमान में कोतवाली पुलिस मानवाधिकार सिर्फ कोतवाली में टंगे वोर्ड तक ही सीमित बना हुआ है। 

 

 

अलग अलग घटनाओं में एक दर्जन से अधिक घायल

  • गम्भीर घायल भेजे गए जिला अस्पताल

तालबेहट। कोतवाली क्षेत्र के अलग-अलग स्थानों पर हुई सडक़ दुर्घटनाओं के मामले में एक दर्जन से ज्यादा लोग घायल हुए। जिनमें से गंभीर घायलों को जिला अस्पताल ललितपुर एवं झांसी मेडिकल रेफर किया गया।

जानकारी अनुसार बाइक से जा रहे रामचरन उम्र 45 पुत्र प्रागीलाल, हंसमुखी 40 पत्नी रामदयाल विगारी जा रहे। तभी अचानक बाइक के सामने गाय आ जाने से बाइक फिसल गई। जिससे दोनों बुरी तरह घायल हो गए। पूराकलाँ मार्ग पर आमने सामने की दो टैक्सी टकरा गई जिससे टैक्सी में सवार चार्ली राजा उम्र 25 पुत्र इमरत, मनीष उम्र 15 पुत्र रमेश, राधिका 5 वर्ष पुत्री रूप सिह निवासी ग्राम कंधारी कला के मजरा भैसनवारा खुर्द बुरी तरह घायल हुए। जिनमें राधिका को जिला अस्पताल रेफरर रेफर कर दिया गया।

इसके अलावा बाइक से गाय टकराने से बाइक सवारकस्वा निवासी जय कुमार सोनी उम्र 55वर्ष पुत्र द्वारिका सोनी गम्भीर घायल हो गए । जिन्हें ललितपुर रेफर किया गया। वहीं शहजाद पुल के समीप अनियंत्रित होकर टैक्सी पलटने से सात सवारियां घायल हो गई। सभी घायलो को ललितपुर जिला अस्पताल किया रेफर कर दिया। बाबू लाल रैकवार उम्र 55 वर्ष पुत्र बिहारी, रानी उम्र 35 वर्ष पत्नी बब्लू, मालती उम्र 35 वर्ष पत्नी बाबा, ममता उम्र 35 वर्ष पत्नी हरदयाल, मन्कू 40 वर्ष पत्नी लक्ष्मणअकला 35 वर्ष पत्नी हरनामए भुवन उम्र 40 वर्ष पति अर्जुन सभी घायल निवासी हर्षपुर बताए गए। सभी घायलों को जिला अस्पताल भेज दि

 

सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष के समर्थन में आए गठबंधन के नेता

तालबेहट। ब्राह्मण और सवर्णों खिलाफ  लगातार सोशल मीडिया पर अनुचित टिप्पणी करने के मामले में जनपद के समाजवादी नेता तिलक  यादव पर  मुकदमा दर्ज होने के बाद सपा बसपा गठबंधन के  नेताओं ने तिलक यादव पर दर्ज मुकदमे की विरोध में प्रदर्शन करते हुए निष्पक्ष जांच की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा। 

सपा बसपा पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने उप जिलाधिकारी कृष्ण कुमार सिंह को लोकसभा प्रभारी एंव पूर्व जिला अध्यक्ष सपा तिलक यादव के विरुद्ध दर्ज मुकदमे के सिलसिले में निष्पक्ष जांच कराने के लिए ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि समाजवादी नेता तिलक यादव के ऊपर राजनीतिक द्वेष भावना के चलते मुकदमा दर्ज कराया गया उनकी सोशल मीडिया पर की गई टिप्पणी को गलत तरीके से प्रस्तुत किया गया। जिस की निष्पक्ष जांच आवश्यक है। जिसमें प्रमुख रूप से प्रभारी विधानसभा बसपा सरमन लाल बंशकार जिला संयोजक बसपा संतोष कुमार अहिरवार विधानसभा सचिव बसपा काशीराम अहिरवार पूर्व सेक्टर अध्यक्ष प्रमोद रजक विधानसभा प्रभारी सपा धनीराम एडवोकेट जिला पंचायत सदस्य मान सिंह यादव युवा नेता जय सिंह यादव नवदीप विजयन मंडल प्रभारी बसपा ओम प्रकाश अहिरवार सेक्टर अध्यक्ष छोटे लाल अहिरवार जिला प्रभारी बसपा रघुनाथ अहिरवार विधानसभा अध्यक्ष छात्र सभा योगेंद्र पठारी पूर्व ब्लॉक उपाध्यक्ष रामजीवन यादव राम सिंह गुलेदा सेक्टर अध्यक्ष सपा राजू यादव पूर्व प्रधान खुशीराम देवी सिंह यादव राजेश अहिरवार राम सेवक यादव बृषभान यादव खुशीराम यादव लाल सिंह रैकना प्रेमलाल नारायण सिंह यादव लल्ला जितेंद्र यादव वकील गोलू यादव मोहित यादव राजीव यादव एडवोकेट के साथ भारी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

 

हारजीत के बाजी लगाते एक दर्जन गिरफ्तार

ललितपुर। थाना जखौरा पुलिस ने हारजीत की बाजी लगाते दर्जन  लोगों को गिरफ्तार किया। सभी सार्वजनिक जगह पर ताश पत्तों से जुआ खेल रहे थे। पकड़े गये सभी युवकों को चालान जुआ अधिनियम की धाराओं में किया गया। 

थाना जखौरा अन्तर्गत ग्राम गोरा की पुलिया के पास कुछ लोग जुआ खेल रहे थे, पुलिस को इसकी सूचना प्राप्त हुई। उपनिरीक्षक कल्यान सिंह ने मौके पर जाकर घेरा बन्दी कर उन्हें धर दबोचा। मौके पर फड़ से 400 रुपये व 52 ताश के पत्ते बरामद हुये, साथ जामातलाशी में 4000 हजार रुपये बरामद किये गये। पकड़े गये युवकों में सन्तराम, सुजान, सूरज सहित नौ अन्य गिरफ्तार किये गये। पकड़े गये सभी अभियुक्तों का चालान जुआ अधिनियम की धारा में किया गया। पुलिस की इस कार्यवाही से अन्य जुआरियों में दहस्त का माहौल बना हुआ है। 

 

फांसी लगा छात्र ने दी जान

ललितपुर। शहर के एक मोहल्ले में एक 18 वर्षीय छात्र ने फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। परिजन आत्महत्या का कारण नहीं बता पा रहे हैं। 

केातवाली अन्तर्गत मोहल्ला छत्रसाल पुरा निवासी अमित कुमार सोनी का पुत्र अनिकेत शुक्रवार की रात्रि को 11 बजे तक जागता रहा। इसके बाद अपने कमरे में सेा गया। जब परिजन सुबह पाँच बजे उठे, तो देखा कि वह कमरे की छत पर लगे कुन्दे से रस्सी के साहारे फांसी पर लटका हुआ है। इसकी सूचना पुलिस को दी गयी। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। आत्महत्या के कारण अज्ञात बताये जा रहे हैं। 

 

गठबंधन ने की मुकदमा वापस लेने की मांग

मड़ावरा। सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष द्वारा सोशल मीडिया पर किये गये पोस्ट को लेकर उन पर दर्ज मुकदमे को वापस लेने की मांग स्थानीय सपा-बसपा गठबंधन के कार्यकर्ताओं द्वारा की गई। शनिवार को हुई एक बैठक में इस बावत एक ज्ञापन एसडीएम को सौंपे जाने हेतु रूपरेखा तय की गई। बैठक में वक्ताओं ने कहा कि समाजवादी पार्टी के लोकसभा चुनाव प्रभारी पर राजनैतिक द्वेषवश भ्रांति फैलाकर विपक्षी पार्टी द्वारा उनपर मुकदमा लिखवाया गया है ताकि उन्हें आगामी 23 मई को होने वाली मतगणना में जाने से रोका जा सके। वक्ताओं ने कहा कि सपा.बसपा गठबंधन के प्रत्याशी द्वारा जब से जनपद प्रशासन की शिकायत चुनाव आयोग से की है तब से गठबंधन के नेताओं और कार्यकर्ताओं को बदनाम करने और मामलों में फंसाने का षणयंत्र विपक्षी पार्टी द्वारा चलाया जा रहा है। बैठक के दौरान शेरसिंह तोमर, पीयूष श्रीवास्तव, पुष्पेंद्र यादवए डॉ रामपाल सिंह, राजेश गंधर्व, खूबचंद सेन, वाहिद खान फैजल, राजेश यादव दाऊ, जयराम सिंह, सत्यनारायण निरंजन, कपिल यादव, शीतल प्रसाद, इन्द्रराज सिंह, रामसेवक, शिवप्रसाद, मुकेश कुमार, आशीष यादव, चंदन यादव, राजू सकरा समेत तमाम कार्यकर्ता मौजूद रहे।

 

जन चौपाल मेंं मोहल्लेवासियों ने समस्याओंं से कराया अवगत 

ललितपुर। पानी की समस्या के निराकरण के लिये मोहल्ला गांधी नगर मेंंं बुन्देलखण्ड विकास सेना ने एक जन चौपाल का आयोजन किया गया। जिसमेंं जल संस्थान के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहें। चौपाल सेना प्रमुख हरीश कपूर टीटू के नेतृत्व मेंं आयोजित की गयी। जिसमेंं वार्ड क्रमांक 17 सिविल लाईन गांधी नगर के निवासियोंं ने अधिकारियोंं के समक्ष पेयजल की समस्या को विस्तार से उठाया। उन्होंने बताया कि मोहल्लें मेंं कई दिनों से पानी नही आ रहा है। जिससे उन्हें काफी पेरशान होना पड़ रहा है। जल संस्थान अधिकारियों ने जल्द ही पानी की समस्या के निराकरण का आश्वासन दिया  व फिलहाल मेंं  टैंकरोंं से पेयजलापूर्ति कराने के निर्देश कर्मचारियोंं को दियें। इस दौरान राजेन्द्र  पाठक, मनोज शर्मा, निर्मल जैन, कैलाश जैन, अंकित जैन, मुन्ना, अमर सिंह, रवि, रमाकान्त, हिमांशु  गोस्वामी, रामेश्वर, सौरभ जैन, नवीन जैन, राजू अग्रवाल, महेश जैन, रमन अग्रवाल, राजीव, जगदीश सहित अनेकों लोग मौजूद  रहे।

 

पवन बने महासचिव

  • चन्देल समाज की जिला कार्यकरिणी का हुआ विस्तार 

ललितपुर। चन्देल (चडार) समाज की एक बैठक का आयेाजन किया गया। जिसमें प्रदेश अध्यक्ष रामदास सर्वोहम की अनुशंसा पर एवं जिलाध्यक्ष विजय सिंह चन्देल व वरिष्ठ पदाधिकारियों की सर्व सहमति से जिला कार्यकरिणी गठित की गयी। जिसमेंं जिला उपाध्यक्ष अशुंल चन्देल व लक्ष्मन चन्देल,  महा सचिव पवन चन्देल, सचिव संदीप चन्देल, सह सचिव विनोद चन्देल व मीडिया प्रभारी नरेन्द्र चन्देल को बनाया गया। इस दौरान नैतिक चन्देल, नरेन्द्र चन्देल, छोटू  चन्देल, शंकर लाल, ऋषि, शैलेन्द्र,  राम, चन्द्रवन, खलक सिंह सहित समाज के अनेंको लोग उपस्थित रहें। 

 

तखत ग्रप ने मिट्टी के जलपात्रोंं का पूरे शहर मेंं किया वितरण 

गौरैया संरक्षण के लिए जलपात्र वितरण करते संस्था पदाधिकारी

तखत ग्रुप व मानव आर्गेनाईजेशन के तत्वाधान मेंं चलाया गया अभियान ललितपुर। तखत ग्रुप के तत्वाधान में गौरैया चिडिय़ा को भीषण गरमी से बचाने के लिए लगातार अभियान चलाकर मिटटी के जलपात्र वितरण किये जा रहे हैं। इसी क्रम में गौरैया चिडिय़ा बचाओ अभियान में जल पात्र का वितरण मोहल्ला चण्डी मंदिर क्षेत्र, नई बस्ती व देवगढ़ रोड पर घर-घर जाकर किया गया। जिसमें तखत ग्रुप को चंडी मंदिर नई बस्ती एरिया में पानी की कमी साफ दिखाई दी कई बच्चों ने कहा पानी आता नहीं जल पात्र भरने के लिए। हम ज्यादा से ज्यादा मेहनत कर पानी लाएंगे कोई गली ऐसी है जहां तीन तीन साल से पानी नहीं आया। कई परिवारों ने हम लोगों से शिकायत की पर हम लोग असमर्थ रहे जो काम हम लोगों का था।

वह करने का आग्रह किया जलपान वितरण करते समय बच्चों को टॉफी देकर सुबह शाम पानी जल पात्र में डालने का आग्रह कर आज का अभियान समाप्त किया। इस दौरान मज्जू सोनी, रमेश खटीक, महेन्द्र सिंघई, पंकज जैन, अफजुल रहमान, टिंकल हुण्डैत, विद्या मालवीय, मिन्टू सिंघई, राजीव चौबे, गौरव जैन, सुनील जैन, पुच्ची कबाड़ी, सुमेर जैन, रिंकू बबेले, प्रशान्त शुक्ला, रामकोटि, अभय जैन, बृजेश लाला, वीरेन्द्र जैन के अलावा अनेकों सदस्य मौजूद रहे। वहीं मानव आर्गेनाइजेशन के तत्वाधान में आज पहलवान गुरुदीन महाविद्यालय में चलाया गया। पक्षी संरक्षण अभियान संस्था के सचिव एड.स्वतंत्र व्यास ने मृदा पात्रों व लकड़ी के घर का वितरण किया। इस मौके पर पारस नाथ यादव, डा.महेश झां, रामलखन यादव, सतीश सोन गिरकर, गंगाराम, गोपाल यादव, जगत झां आदि महाविद्यालय के कर्मचारी मौजूद रहे। स्वतंत्र व्यास ने बताया की जल्दी ही महाविद्यालय के बच्चों के साथ पर्यावरण संरक्षण को लेकर बड़े स्तर पर कार्यक्रम चलाया जायेगा। महाविद्यालय के संस्थापक पारस नाथ यादव ने कहा की हमारे महाविद्यालय के बच्चे संस्था के प्रत्येक कार्यक्रम में सहयोग की लिए सदैव तत्पर रहेंगे। गौरैया हमेशा से परिवार का हिस्सा रही है। अंत में रामलखन यादव ने सभी का आभार जताया।

 

बाइक का टायर फटने से दो युवक घायल

ललितपुर।  विवाह समारोह से लौट रहे युवक की बाइक का टायर फटने से बाइक सवार दो युवक गंभीर रूप से घायल हो गये। घायलोंं को उपचार हेतु जिला चिकित्सालय मेंं भर्ती कराया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार 25 वर्षीय छोटे राजा यादव  व 20 वर्षीय कृष्ण पाल यादव एक विवाह समारोह से लौट रहे थे कि अचानक उनकी बाइक का अगला टायर फट जाने से उनकी बाइक असंतुलित होकर सडक़ किनारे पत्थर से टकरा गई। जिसमें चंदेरी थाने के गांव मलाखेरा निवासी कृष्ण पाल सिंह और छोटे राजा गंभीर रूप से घायल हो गए। जिनका उपचार जिला चिकित्सालय में चल रहा है।

 

भारतीय संस्कृति के प्रतिकूल है अहिंसा मीट नामकरण

  • करूणा इंटरनेशनल ने उठाई नाम परिवर्तन की माँग

ललितपुर। सरकार ने अहिंसा मीट परियोजना को मंजूरी देकर भारतीय संस्कृति पर बहुत बडा कुठाराघात किया गया है। जानकारी के अनुसार हैदराबाद के कोशिकीय और आणविक जैविकी केन्द्र तथा राष्ट्रीय मांस शोध केन्द्र अहिंसा मीट का उत्पादन, वैज्ञानिक स्टेम-सेल तकनीकी से औधोगिक प्रयोगशालाओं में मटन (बकरे का मांस) और चिकन (मुर्गी-मुर्गे आदि पक्षियों का मांस) तैयार करने की तैयारी है। जिससे स्टेम सेल तकनीकी से औधोगिक प्रयोगशालाओं में मटन, चिकन व अन्य अन्य पशु-पक्षियों का मांस तैयार किया जायेगा। जिस प्रकार का मांस तैयार किया जायेगा, उसी प्रकार के पशु या पक्षी की मूल कोशिका (स्टेम सेल) को बीज रुप में प्रयुक्त किया जायेगा। स्पष्ट है कि इस प्रकार तैयार मांस न तो अहिंसक होगा न क्लीन होगा और न ही शाकाहारी होगा। वह शत -प्रतिशत मांस और मांसाहार ही होगा। स्टेम सेल तकनीकी से लैब में तैयार ऐसे मांस को स्टेम सेल मीट या लैब मीट कहा जा सकता है। लेकिन उसे किसी भी स्थति में अहिंसा मीट या वेज मीट कहना न सिर्फ एक बडा झूठ अपितु अवैज्ञानिक और असांस्कृतिक भी है। सरकार को इस बात को भी सोचना चाहिए और भारतीय संस्कृति का मूल आधार -करुणा, अहिंसा, मानवता है।

करुणा इंटरनेशनल बनाएगी जन आंदोलन 
करुणा केन्द्र के वरिष्ठ पदाधिकारी अक्षय अलया व महामंत्री धु्रव साहू ने जानकारी देते बताया कि पिछले 23 वर्षों से करूणा इंटरनेशनल चेन्नई बालमन में मानवीय मूल्यों का बीजारोपण कर रहा है। करुणा इंटरनेशनल संस्थान भारतीय जीवजंतु कल्याण बोर्ड से मान्यता प्राप्त है। वर्तमान समय में देश के विभिन्न राज्यों के विद्यालयों व महाविद्यालयों में लगभग 2600 करूणा क्लबें, 39 केन्द्र एवं 800 कार्यकर्ता इस अभियान को सफल बना रहे हैं।
करुणा इंटरनेशनल का मुख्य उद्देश्य विद्यार्थियों के बालमन में प्राणी मात्र के प्रति प्रेम, अहिंसा, दया सौहार्द, पशु कल्याण ,पर्यावरण चेतना,नैतिकता,व्यसन मुक्ति, देशभक्ति आदि मानवीय मूल्यों की स्थापना है ,जिससे भारतीय संविधान के अनुच्छेद 51 ए(जी) के अनुसार अपने मूलभूत कर्तव्यों के प्रति जागरूक होकर सुनागरिक बनने में सक्षम हों।करुणा इंटरनेशनल परिवार,करुणा इंटरनेशनल चेन्नई, ललितपुर, मडावरा केंद्र के साथ-साथ देश के विभिन्न भागों में संचालित 2500 करूणा क्लबें,केंद्रों अर्थात् लाखों सदस्य पुरजोर अपील करते हैं कि अहिंसा मीट या वेज मीट शब्द -प्रयोग घोर आपत्तिजनक है।करुणा इंटरनेशनल यहीं मांग करता है कि इस परियोजना का नाम बदला जाए।जिससे भारतीय संस्कृति सुरक्षित बची रहे।

 

 

एक राउंड की मतगणना समाप्त होने के बाद ही दूसरा होगा प्रारम्भ :- डीएम 

  • ललितपुर विधानसभा 39 राउंड व महरौनी विधानसभा 38 राउंड में मतगणना होगी सम्पन्न 
  • मतगणना क्रार्मिकोंं का प्रशिक्षण सत्र सम्पन्न 

ललितपुर। जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी मानवेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में  23 मई को लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2019 के तहत नवीन विशिष्ट उत्पादन मण्डी अमरपुर में होने वाली मतगणना के सम्बंध में समस्त मतगणना कार्मिकों का प्रशिक्षण सत्र कलैक्ट्रेट सभागार में आयोजित किया गया।

प्रशिक्षण में मास्टर ट्रेनर्स द्वारा समस्त मतगणना कार्मिकों को पावर प्वाइंट प्रजेंटेशन के माध्यम से बताया गया कि 23  मई 2019 को नवीन विशिष्ट उत्पादन मण्डी, अमरपुर में मतगणना प्रारम्भ होगी। ललितपुर विधानसभा हेतु 39 राउंड व महरौनी विधानसभा हेतु 38 राउंड में मतगणना सम्पन्न होगी। मतगणना हेतु 14 मेजें लगायी जायेंगी, अभिकर्ताओं को जाली के दूसरी तरफ  बैठाया जायेगा। एक आरओ/ एआरओ मेज होगी, जिस पर प्रत्याशी, प्रेक्षक व निर्वाचन अभिकर्ता बैठेगें।

रिटर्निंग ऑफिसर गणना हॉल के अंदर एक मत गणना टेबल को वीवीपेट गणना बूथ (वी सी बी) को वीवीपीऐटी पेपर स्लिप्स की गणना हेतु चिन्हित करेगा। मतगणना हॉल में केवल प्रेक्षक के अतिरिक्त किसी को मोबाईल ले जाना वर्जित है। समस्त मतगणना कार्मिक 6 बजे मतगणना स्थल पर पहुँचंगे। माइक्रो आब्जर्वर प्रत्येक मेज पर परिणाम अंकित करेंगे। डाक मतगणना शुरू होने के 30 मिनट बाद, ईवीएम मतगणना शुरू की जा सकती है भले ही डाक मतगणना अभी भी चल रही हो। ईवीएम मतगणना का उपान्तिम दौर तब तक शुरू नहीं होगा जब तक कि डाक मतगणना समाप्त न हो जाए। इसके पश्चात चक्रवार सीयू की मतगणना प्रारंभ करेंगे। कंट्रोल यूनिट कैरिंग केस पर पीठासीन अधिकारी द्वारा लगाई गई मुहर की जांच और प्रपत्र 17 सी की वह उसी कंट्रोल यूनिट की है, मुहर तथा विशेष तौर पर उस यूनिट पर कागज की मुहर अक्षुण हों। सीयू के कैरिंग केस को खोलें, सील चेक करें।

ग्रीन पेपर सील की क्रमांक का पीठासीन अधिकारी का प्रारूप 17ग के भाग-1 की मद 9 से मिलान करेंगे। कंट्रोल यूनिटों के साथ छेड़छाड़ पायी जाती है तो इन्हें अलग रखा जाएगा। परिणाम प्रारूप 17ग, भाग-2 में भरकर आरओं/ एआरओ को सौंपे, मतगणना अभिकर्ताओं के भी हस्ताक्षर करायें। यदि सीयू परिणाम प्रदर्शित नहीं करती तो इस सीयू को (क्रह्र ष्ह्वह्यह्लशस्र4) में रखा जायेगा, अन्य सीयू की मतगणना की जायेगी। अंत में इस खराब सीयू का वीवीपीएटी लाया जायेगा व इसकी पर्चियों की गिनती होगी। यदि नियंत्रण इकाई परिणाम प्रदर्शित नहीं कर पा रहा है तो उसे संवाहक बस्ते में रखकर रिटर्निंग ऑफिसर की सुरक्षा में गणना हाल में रख देना चाहिये।  सभी नियंत्रण ईकाईयों से मतों की गणना के पश्चात् संबंधित वीवीपैट की मुद्रित पेपर पर्ची की भी कमीशन के निर्धारित मापदंड अनुसार गणना की जायेगी। ज्यों ही अंतिम परिणाम की घोषणा की जाती है, प्रारूप 21ड में यथा अन्तर्निहित आंकड़े जो विजयी अभ्यर्थी को सौंपे जाते है, आयोग के तत्काल संप्रेषण हेतु प्रेक्षक को भी सौंपे जांएगे।

प्रेक्षक यह सुनिश्चित करेगा कि प्रारूप 20 में अंतिम परिणाम पत्र को रिटर्निंग आफिसर द्वारा प्रारूप 21 में परिणाम की घोषणा करने तथा इसे उपयुक्त स्थानों पर भेजने से पूर्व भरा जाता है। प्रारूप 20, 21ग तथा 21 ड प्रत्येक की सम्यक रूप से भरी हुई एक-एक प्रति प्रेक्षक द्वारा एकत्र की जाएगी तथा मतगणना पर उनकी रिपोर्टों के साथ संलग्न की जाएगी। आयोग ने निर्णय लिया है कि सभी प्रेक्षण मतगणना तथा परिणामों के संकलन की प्रक्रिया पर गहन निगरानी रखेंगे। इस प्रयोजनार्थ, न तो प्रेक्षक अथवा सहायक रिटर्निंग ऑफिसर अथवा न किसी अन्य निर्वाचन अधिकारी को मतगणना पूरी होने तथा परिणाम घोषित होने तक मतदान हाल को छोडऩा चाहिए। मतगणना परिसरों के भीतर कठोर अनुशासन बनाए रखें तथा नियमों का अनुपालन न करने वालों के विरूद्ध तत्काल कार्यवाही की जाएगी।

अन्तिम परिणाम पत्र से सीयू परीक्षण/टेस्ट मत व निविदत्त मतों को घटाकर परिणाम बनाया जायेगा। फार्म 20 में अलग से दर्शाया जायेगा प्रेक्षक व आरओ उस राउन्ड के परिणाम को जॉच कर हस्ताक्षर करेंगे व घोषणा करेंगें, प्रारूप 20 के भाग-2 में लोकसभा की समस्त विधान सभाओं के परिणाम को जोडक़र अन्तिम परिणाम घोषित करेंगे। मतगणना के पश्चात् वोटिंग मशीनों व निर्वाचन कागजात को सील करना होगा। जब सीयू/वीवीपैट में दर्ज मतदान के परिणाम को प्रारूप 17ग भाग-2 तथा प्रारूप 20 में अंकित कर दिया हो तब इनको पुन: निर्वाचन अभिकर्ताओं से हस्ताक्षर कराकर सील करेगा। परिणाम सेक्शन बन्द कर बैट्री सहित सील किया जायेगा। वीवीपैट में पर्चियों के बण्डल डालकर पुन: सील किया जायेगा, पेपर रोल व बैट्री निकाला नहीं जायेगा। सीयू की बैट्री निकाली नहीं जायेगा। सीवी व वीवीपैट  व को कैरी केस में टैग लगाकर सील किया जायेगा व स्ट्राँग रूम में रखा जायेगा। 

प्रशिक्षण सत्र के अंत में जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने अपने सम्बोधन में समस्त मतगणना कार्मिकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि जब तक एक राउंड की मतगणना समाप्त नहीं हो जाती, तब तक दूसरे राउंड की मशीने टेबिल पर नहीं लायी जायेंगी। सभी मतगणना कार्मिक पूरी निष्पक्षता के साथ मतगणना सम्पन्न करायें।  इसके उपरान्त मास्टर ट्रेनर्स द्वारा समस्त मतगणना कार्मिकों को ई0वी0एम0 मशीन का व्यवहारिक प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण सत्र के दौरान मुख्य विकास अधिकारी वी0पी0पाण्डेय, अपर जिलाधिकारी अनिल कुमार मिश्र, परियोजना निदेशक डी0आर0डी0ए0 बलिराम वर्मा, उप जिलाधिकारी सदर गजल भारद्वाज, जिला विकास अधिकारी विद्यानाथ शुक्ल सहित समस्त मतगणना कार्मिक व मास्टर ट्रेनर्स उपस्थित रहे। 

 

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments