भण्डारे के साथ श्रीमद्भागवत कथा का समापन 

भण्डारे के साथ श्रीमद्भागवत कथा का समापन 

उन्नाव।

हनुमान मंदिर पर चल रही श्रीमद्भागवत कथा का मंगलवार को समापन हो गया। इस मौके पर आयोजित विशाल भण्डारे में हजारो श्रद्वालुओ ने प्रसाद ग्रहण किया।

फतेहपुर-84 कस्बा स्थित हनुमान मंदिर परिसर में चल रही श्रीमद्भागवत कथा के अंतिम दिन कथावाचक पं0 विवेक त्रिवेदी वाजपेयी ने विधि-विधान से पूजा अर्चना कर कथा का समापन किया।

उन्होने कहा कि धार्मिक कार्यक्रम में भाग लेने से मन को शांति और घर-परिवार में खुशहाली आती है। इसलिए अधिक से अधिक धार्मिक कार्यक्रमो में भाग लेकर पुण्य कमाए। उन्होंने श्रद्वालुओ से युवाओ को धार्मिक कार्यक्रमो में भाग लेने पर जोर दिया। कथा समापन पर मंदिर परिसर में विशाल यज्ञ का आयोजन किया गया।

यज्ञ में भारी संख्या में पहुंचे श्रद्वालुओ ने भाग लिया और देश प्रदेश व घर-परिवार की खुशहाली की प्रार्थना की। इसके बाद मंदिर परिसर में भागवतकथा समापन के बाद विशल भण्डारे का आयोजन किया गया। जिसमें हजारो श्रद्वालुओ ने भण्डारे में प्रसाद ग्रहण किया।

इस मौके पर भगवताचार्य आचार्य विवेक त्रिवेदी आचार्य ओमनारायण शुक्ला ज्ञानप्रकाश मिंटू अग्निहोत्री अवनीश त्रिवेदी ज्ञानेन्द्र मिश्रा राजू चैरसिया गणेश चैरसिया डॉ0 जुगुल डॉ0 अनिल कश्यप रामसनेही राज गुप्ता सचिन चैरसिया भारी संख्या में लोग उपस्थित रहे।

Comments