जय माँ अम्बे ट्रास्पॉटिंग ने फिर मचाया कहर

कोयला ढुलाई में लगे हाइवा  ने चार जानवरों को लिया अपनी चपेट में

 
 
जय माँ अम्बे ट्रास्पॉटिंग ने फिर मचाया कहर

स्वतंत्र प्रभात-


टंडवा, चतरा, झारखण्ड

आम्रपाली कोल परियोजना से बचरा सी.एच.पी. साइडिंग कोल ढुलाई में लगे जय मां अम्बे ट्रांसपोर्टिंग के हाइवा ने चार जांनवरो को अपनी चपेट में ले लिया । घटना टंडवा के गोवर टोली के बगल में एनटीपीसी रोड फ़ॉर लेन के पास कि है । घटना सेआक्रोशित ग्रामीणों का कहना है कि जय मां अम्बे कम्पनी की वाहन से हुई है दुर्घटना। जिसके बाद ग्रामीणों ने मुआवजा की मांग को लेकर वाहनों का परिचालन बन्द कर दिया है । तीन जानवरों की मौत मौके पर ही हो गई है, 

जबकि एक जानवर बुरी तरह से घायल है। पीड़ित जानवर के मालिक राजेन्द्र यादव पिता स्व निर्मल यादव टंडवा के गवर टोली निवासी है पीड़िता का कहना है कि जानवरों का दो लाख रुपये जब तक मुआवजा नही मिल जाता तब तक परिचालन बन्द रहेगा।

आक्रोशित ग्रामीणों का कहना है कि 24 घंटे कोयले की ढुलाई से आये दिन कोई ना कोई घटनाएं होती ही रहती है आखिर इसका जिम्मेवार कौन है?

हाइवे की कोल ढुलाई से परेशान ग्रमीण- राहगीरों को कब मिलेगा राहत अधिकारीयों के द्वारा कब कि जाएगी करवाई ।  हाइवे कोल ट्रास्पॉटिंग वाहनों की जाँच आ.रटी.ओ. विभाग क्यों नहीं करती है,अगर जाँच हुवा तो बिना हेवी लाइसेंस, वाले ड्रेविंग जरूर मिलेगा जिस पर अंकुश लगाने की आवश्यकता है।

   

FROM AROUND THE WEB