पत्रकार पर फर्जी केस, इटियाथोक ब्लॉक सभागार में पत्रकार साथियो ने की बैठक, दिया ज्ञापन

डिप्टी सीएम बृजेश पाठक ने 3 सदस्य टीम गठित कर जांच के लिए आदेश 2 दिन में मांगा रिपोर्ट सीएचसी अधीक्षक पिछले 8 वर्ष व उनके पति डॉ विवेक मिश्रा विगत 11 वर्षों से यहां तैनात है तत्काल प्रभाव से इन दोनों चिकित्सकों को यहां से अन्य कहीं तबादला किए जाने की मांग।
 
पत्रकार पर फर्जी केस, इटियाथोक ब्लॉक सभागार में पत्रकार साथियो ने की बैठक, दिया ज्ञापन

स्वतंत्र प्रभात 

गोंडा स्वास्थ्य विभाग की खबर लिखने के बाद जिले के वरिष्ट पत्रकार उमानाथ तिवारी पर केस दर्ज होने से खफा पत्रकारों के द्वारा 1 सितंबर गुरुवार को इटियाथोक ब्लाक मुख्यालय सभागार में खास बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में रूपईडीह, मुजेहना व इटियाथोक ब्लाक के अनेक पत्रकार सामिल रहे। बैठक में अनेक विषयों पर चर्चा हुई और आगे की रणनीति बनाई गई। आयोजित बैठक में सभी पत्रकारों ने एक राय होकर तत्काल मुकदमा वापस करने पर विचार विमर्श किया तत्पश्चात मुख्यमंत्री को संबोधित 3 सूत्रीय ज्ञापन खंड विकास अधिकारी इटियाथोक रूप नरायन भारती को सौंपा गया। बैठक में महत्वपूर्ण प्रस्ताव भी पारित किए गए।

दिए गए ज्ञापन में कहा गया है कि बीते 27-28 अगस्त 2022 को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मुजेहना में एक नवजात की किसी जानवर के नोचने से हुई मौत की खबर प्रकाशित करने के बदले पत्रकार उमानाथ तिवारी पर दर्ज फर्जी मुकदमे को वापस लिया जाए। दूसरी मांग हुई कि पूरे प्रकरण की न्यायिक जांच कराई जाए और दोषी पाए गए समस्त कर्मचारियों के विरुद्ध दंडात्मक कार्रवाई सुनिश्चित की जाए। तीसरी और अंतिम मांग हुई कि वर्तमान सीएचसी

अधीक्षक डॉ सुमन मिश्रा पिछले 8 वर्ष व उनके पति डॉ विवेक मिश्रा विगत 11 वर्षों से यहां तैनात है। तत्काल प्रभाव से इन दोनों चिकित्सकों को यहां से अन्य कहीं तबादला किया जाए। मांगे पूरी ना होने की दशा में सभी पत्रकार मिलकर आंदोलन को बाध्य होंगे। इस अवसर पर मुजेहना, इटियाथोक और रुपईडीह ब्लाक सहित आसपास क्षेत्र के दर्जनों पत्रकार मौके पर मौजूद रहे।

   

FROM AROUND THE WEB