इस्हाक बरकाती के घर पर मनाया गया जश्न ईद मिलाद उन नबी

ओवैस रज़ा ने नाते पाक से शुरुआत करके लोगों को सुभानअल्लाह अल्हम्दुलिल्लाह करने पर मजबूर कर दिया व 
 
 ओवैस रज़ा ने नाते पाक से शुरुआत करके लोगों को सुभानअल्लाह अल्हम्दुलिल्लाह करने पर मजबूर कर दिया व 

स्वतंत्र प्रभात


 उन्नाव। मोहल्ला कासिम नगर सैयद बाबा दरगाह के पास इस्हाक बरकाती के घर पर बाद नमाज़ इशा जश्ने ईद मिलादुन्नबी का प्रोग्राम बड़े अदब के साथ मनाया गया। जिसमें दावते इस्लामी के ओवैस रज़ा ने नाते पाक से शुरुआत करके लोगों को सुभानअल्लाह अल्हम्दुलिल्लाह करने पर मजबूर कर दिया व 

उसके बाद दावते इस्लामी की वसीक ने सरकार दो आलम की  जिन्दगी पर बयान कर व सरकार दो आलम की सुन्नतों पर लोगों को अमल करने के लिए हिदायत की और कहा किस सबसे अफजल सबसे बेहतर ईदो की ईद जश्ने ईद मिलादुन्नबी है और हम सबको इस अवसर पर घरों में सजावट मिलाद उन नबी का जिक्र जोरों शोरों से करना चाहिए । क्योंकि अगर सरकार दो आलम न होते न ही आसमा होता न या जमीन जिन के सदके में


 पूरी दुनिया बनाई गई है इसलिए आप लोगों से गुजारिश करता हूं कि नमाज कायम करें व सरकार दो आलम की एक एक सुन्नत पर अमल कर आखिरत की तैयारी करें। इस अवसर पर कारी समी नूरी अरशद अयाज़ मो हैदर हसन रियाज मों अफताब व आदि मोहल्ला वासी उपस्थित रहे।

FROM AROUND THE WEB