निर्जन बगीचे में बाध कर गिराया गया साँड़ के लिए एक व्यक्ति बन गया भगवान

पशुक्रूरता न्यूज़ 
 
साँड़
जटहां बाजार थाना क्षेत्र की खबर 
कुशीनगर,उत्तर प्रदेश।

जिले के जटहां बाजार थाना क्षेत्र के ग्राम सभा हिरनही चौराहा से पश्चिम बेहद निर्जन सुनसान गुड्डू अंसारी के बगीचे में 24 घंटे से चारो पांव बांध कर रखा गया साँड़ की जान एक ग्रामीण के देखने पर साँड़ को जीवनदान मिल गई।

मिली जानकारी के अनुसार बीते 10 दिसंबर को गांव का एक व्यक्ति अपने खेत के तरफ गया था। तो उसने एक पेड़ में साँड़ की चारो पैर बधा दयनीय दशा में देखा तो आकर ग्रामीणों से बताया। इसके बाद यह बात जंगल की आग की तरह फैल गई। लोग आनन फानन में बगीचे में पहुचे तो साँड़ की रस्सी काटकर उसे मुक्त कराया। लेकिन साँड़ इस हाल में नही रहा कि उठ सके। फिर भी उसकी जान बच गई आज बीमार हाल में मानव की क्रूरतम सीमा का घोतक बना हुआ है।

घटना के दौरान किसी ने थानाध्यक्ष रामचंद्र राम के पास फोन कर सूचना दिया।मौके पर थानाध्यक्ष भी पहुच गए और साँड़ की बुरी हाल देखकर उन्होंने ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि इसकी जांचकर दोषियों के विरुद्ध हरगिज कड़ी कार्यवाही करूंगा।इनके इस आश्वासन से ग्रामीण काफी संतोष जाहिर किये।

लेकिन जब घटना के चार दिन बाद भी पशु अपराधियो को पता लगाने में पुलिसिया विफलता को देख अब ग्रामीणों में असंतोष का माहौल कायम हो गया है। ग्राम प्रधान जयचन्द कुशवाहा ने कहा जो भी व्यक्ति साँड़ को बांधकर मरणासन्न हाल में किया उसने अक्षम्य व घिनौना अपराध किया है।उसे पुलिस को कड़ी से कड़ी सजा देनी चाहिए।

ग्रामीण दुर्गेश पांडेय रामाशीष राम  शिव शर्मा राजेश मद्धेशिया गुड्डू जायसवाल लडडू चंद्रभान कुशवाहा दीपक राव वीरेंद्र पटेल सहित समस्त ग्रामीणों में गहरा क्षोभ की उपज बनी हुई है यह कि इनके जेहन में प्रबल आशंका घर कर गई है कि किसी क्रूर आदमी ने इस तरह से अमानवीय कृत्य किया था।साँड़ को काट देते या तो फिर साँड़ को कसाई घर तक पहुचाने के लिए यह हाल किये है।

FROM AROUND THE WEB