प्रतापपुर में ब्लॉक स्तरीय नैनो यूरिया पर गोष्ठी

 
प्रतापपुर में ब्लॉक स्तरीय नैनो यूरिया पर गोष्ठी

नैनो के प्रयोग से गिनाए अनेकों लाभ

स्वतंत्र प्रभात।
प्रयागराज ब्यूरो।

विकास खंड कार्यालय परिसर प्रतापपुर प्रयागराज में विकासखंड स्तरीय इफको नैनो यूरिया तरल आधारित गोष्ठी का आयोजन किया गया ।  इस गोष्ठी में विकासखंड प्रतापपुर के ब्लाक प्रमुख  शैलेश यादव मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहे । कारडेट फूलपुर के जैव उर्वरक इकाई के   राजेश कुमार सिंह ने बताया कि इफको नैनो यूरिया तरल नैनो तकनीक पर आधारित एक अनूठा उर्वरक है जो विश्व में पहली बार इफको द्वारा विकसित किया गया है 

फसल की 30 से 40 दिन की अवस्था पर जब फसल में पर्याप्त मात्रा में पत्तियां हो जाती हैं उस समय नैनो यूरिया का छिड़काव करने से नाइट्रोजन की सफलतापूर्वक आपूर्ति हो जाती है जिससे उत्पादन और उत्पाद की गुणवत्ता में वृद्धि के साथ-साथ पर्यावरण भी सुरक्षित रहता है।  दलहनी फसलों में इसका प्रयोग एक बार तथा अनाज तेल सब्जी गन्ना आलू आदि में दो बार  छिड़काव किया जा सकता है।सुमित तेवतिया कनिष्ठ क्षेत्र प्रतिनिधि इफको ने सभा में उपस्थित लोगों से अपने अपने खेतों की मिट्टी जांच कराने की अपील की और जांच हेतु मिट्टी नमूना लेने की विधि को विस्तार से बताया । 

कारडेट फूलपुर में स्थित मृदा परीक्षण प्रयोगशाला में किसानों की मिट्टी की जांच निशुल्क की जाती है।   नंद जी जायसवाल प्रभारी प्रशिक्षण कारडेट ने इफको नैनो यूरिया के छिड़काव में कृषि ड्रोन के उपयोग को बताया और इससे होने वाले लाभों को भी समझाया । उन्होंने कहा कृषि में उर्वरकों एवं कीटनाशकों के छिड़काव में आने वाली समस्याओं को देखते हुए ड्रोन का प्रयोग बहुत ही लाभकारी होगा और रोजगार सृजन करने वाला होगा। 

मौके पर एडीसीओ हंडिया  अरुण कुमार सिंह , एडीओ कोऑपरेटिव  आजाद सिंह , एडीओ कृषि देवेंद्र प्रताप सिंह, शाखा प्रबंधक कॉपरेटिव बैंक धनुपुर  तनिष्क कुमार एवं शाखा प्रबंधक कोऑपरेटिव बैंक उग्रसेनपुर  कृष्ण कुमार सहित तमाम कृषक एवं सहकारी समितियों के सचिव मौजूद रहे।

FROM AROUND THE WEB