बायफ द्वारा पशुपालकों के लिए एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन

अंबुज शुक्ला, अतुल शुक्ला, आशुतोष शुक्ला अनिल गौतम, मोहम्मद मुस्ताक अहमद, रवि सिंह अरविंद वर्मा, विक्रांत सिंह सहित  आधा सैकड़ों किसान व पशुपालक  मौजूद रहे  
 
बायफ  द्वारा पशुपालकों के लिए एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन 

स्वतंत्र प्रभात 

 असंद्रा बाराबंकी के तहसील रामसनेहीघाट केंद्र कोटवा सड़क वी आई एस एल डी लखनऊ के द्वारा एचडीएफसी के सहयोग से चयनित पशुपालकों के लिए मंगलवार सुबह  एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का  शुभारंभ पेन ,डायरी, कैलेंडर , एवं  डेयरी प्रबंधन की बुक देकर किया गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम में पशुपालकों को पशुओं के स्वास्थ्य रोग एवं उसके बचाव के बारे में तकनीकी अधिकारी डीपी ओ वी आई एस एल डी ज्ञानेश कुमार बाराबंकी तिवारी ने विस्तृत जानकारी दी। पशुओं के भोजन के विषय में पशुपालकों को बताया गया कि वर्ष भर हरे चारे के बीज उपलब्ध करवाए जाने हैं इसके अतिरिक्त किसानों को पशुओं की विभिन्न बीमारियों एवं उनसे बचाओ के विषय में बताया गया। डॉ प्रवीण शुक्ला ने पशुपालकों के विभिन्न प्रकार के सवालों के जवाब दिए उन्नत नस्ल के दुधारू पशुओं को कृत्रिम गर्भधारण से प्राप्त करना साथ ही सेकसड

साटेड सीमेन के उपयोग के  बारे मे जानकारी दी ।पशुओं में हरा चारा का महत्व एंव  वर्ष  भर हरा चारा प्राप्त करने के बारे मे बताया गया ।श्री  शुक्ला ने बताया संस्था की ओर से किसानों  और पशुपालको को समय-समय पर  उन्नत किस्म के बीजों  का वितरण भी किया जायेगा।किसानों को बहुत जल्द मक्का बीज, खरीफ के लिए बरसीम,आदि बीज  दिया  जायेगा ।नेपियर घास को लगाने के बारे मे बताया गया । बहुत जल्द ही जनपद बाराबंकी में पशुओं के लिए नेपिया घास की खेती की जाएगी।

प्रशिक्षण कार्यक्रम में मौजूद किसानो द्वारा यह भी कहा गया कि बाएफ कोटवा सड़क के केद्राधिकारी डॉ प्रवीण शुक्ला क्षेत्र में किसानों और पशुपालको के बीच काफी लोकप्रिय है ।इनके द्वारा  समय  समय  पर आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम में किसानों  एवं पशुपालकों को बेहतरीन जानकारी एंव मार्गदर्शन मिलता रहता।जिस कारण श्रेत्र में पशुपालन के कार्य में काफी प्रगति हासिल की है ।प्रशिक्षण कार्यक्रम में  मनीष रावत ,श्रीधर तिवारी, कृष्णानंद तिवारी, शुभम शुक्ला, अंबुज शुक्ला, अतुल शुक्ला, आशुतोष शुक्ला अनिल गौतम, मोहम्मद मुस्ताक अहमद, रवि सिंह अरविंद वर्मा, विक्रांत सिंह सहित  आधा सैकड़ों किसान व पशुपालक  मौजूद रहे  

   

FROM AROUND THE WEB