जिला कारागार का न्यायाधीश ने किया औचक निरीक्षण, दिए आवश्यक निर्देश

 इस दौरान जेल अधीक्षक भोलानाथ मिश्रा, उप कारापाल वन्दना त्रिपाठी एवं वन्दना, बंदी रक्षक इत्यादि उपस्थित रहें 
 
जिला कारागार का न्यायाधीश ने किया औचक निरीक्षण, दिए आवश्यक निर्देश 

स्वतंत्र प्रभात 

 देवरिया 19 सितंबर। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव ने जिला कारागार के बैरकों, पाकशाला का औचक निरीक्षण किया। सचिव न्यायाधीश इशरत परवीन फारुकी ने बंदियों का हाल-चाल जाना तथा उनकों विधिक जानकारियॉ दी। सचिव ने बैरकों, पाकशाला तथा चिकित्सालय में निरंतर स्वच्छता बनायें रखने पर जोर दिया। निरीक्षण के दौरान  निरंतर मीनू के अनुसार ही भोजन बनाने का निर्देश दिया। उन्होंने महिला बंदियों हेतु पौष्टिक भोजन, उनके साथ रह रहें

बच्चों के लिए दूध की व्यवस्था, शिक्षण हेतु व्यवस्था, साफ-सफाई एवं दवा की व्यवस्था कराने हेतु आवश्यक निर्देश दिया।सचिव ने जेल में स्थापित लीगल ऐड क्लीनिक का निरीक्षण करते हुये कहा कि यदि किसी बंदी को विधिक सहायता की आवश्यकता हो तो वह जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवरिया में एक प्रार्थना पत्र देकर अपनी समस्या का निस्तारण करा सकता हैं। यदि किसी बंदी को अपने मामलें में पैरवी की आवश्यकता हो तो वह जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा निःशुल्क अधिवक्ता प्राप्त कर विधिक सहायता ले सकता है। इस दौरान जेल अधीक्षक भोलानाथ मिश्रा, उप कारापाल वन्दना त्रिपाठी एवं वन्दना, बंदी रक्षक इत्यादि उपस्थित रहें।

   

FROM AROUND THE WEB