एसएसपी के औचकनिरीक्षण में पकड़ी गई घोर लापरवाही

 
एसएसपी के औचकनिरीक्षण में पकड़ी गई घोर लापरवाही

सी ओ कार्यालय में नियुक्त जाँच सहायक निलम्बित, सीओ भी जॉच के घेरे में

स्वतंत्र प्रभात।
प्रयागराज ब्यूरो।

प्रयागराज के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक का तेवर इस समय बहुत सख्त  है। चाहे वह अपराधी हो या उनके मातहत। 

 यदि कहीं पर भी उन्होंने पुलिस की कार्यप्रणाली में लापरवाही पाया तो उसको सजा देने से बाज नहीं आते हैं ताजा मामला सीओ सिटी तृतीय के कार्यालय का है जहां पर उन्होंने औचक निरीक्षण किया और कार्यालय में घोर लापरवाही के प्रमाण मिले अधिकारियों द्वारा भेजे गए प्रार्थना पत्र शिकायत पत्र की जांच दो दो हप्तो बीत जाने के बावजूद भी कोई न तो जांच की गई ना ही कोई कार्रवाई 

ऐसे मामलों का निस्तारण ना होने पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने जब जांच में पाया उनका पारा गरम हो गया और उन्होंने कार्यालय में नियुक्तजाँच सहायक आरक्षी विनोद कुमार यादव  को तत्काल निलंबित कर दिया और सीओ सिटी तृतीय संतलाल सरोज को भी ऐसे मामलों में ध्यान ना देने और लापरवाही परीलक्षित होने पर जॉच बैठा दिया।
 2011 बैच का आरक्षी विनोद कुमार यादव ज़िला आज़मगढ़ का रहने वाला पाया गया है 

एसएसपी द्वारा औचक निरीक्षण के दौरान यह पाया गया कि  लोगों के  शिकायती प्रार्थना पत्र  पर क्षेत्राधिकारी कार्यालय में कोई ध्यान नहीं दिया जाताजांच, रजिस्टर अपूर्ण देखा गया जिसे, सीओ भी नहीं देखते हैं जिससे साबित होता हैं की जनता के प्रति यह लोग सबेदन हीन है।  वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने कहा है किपुलिस द्वारा जाँच एक बेहद महत्वपूर्ण शासकीय कार्य है। 

अतः, इसमें घोर दर्जे की लापरवाही परिलक्षित होने के कारण CO CITY THIRD संत लाल सरोज के खिलाफ भी जाँच बैठा दिया गया है। आवंटित जाँच 37/2022 के पत्र को पिछले 14 दिन से देखा तक नहीं गया है। जिससे CO CITY THIRD की प्रथम दृष्टया शिथिल कार्यशैली प्रदर्शित होती है। इनका ऑफिस पर नियंत्रण ढीला पाया गया है।

एसएसपीअजय कुमार ने प्रयागराज जनपद के समस्त पुलिस कर्मियों तथा अधिकारियों को अवगत कराते हुए कहा हैं कि सरकारी कार्यों में जान बूझकर लापरवाही करने 
 जनता से ख़राब व्यवहार करने वाले, भ्रष्टाचारी, कदाचारी तथा अपराधियों, दबंगों, दलालों से साठ-गाँठ रखने वाले पुलिसकर्मियों को किसी भी सूरत में क़तई बख़्शा नहीं जाएगा।
 

FROM AROUND THE WEB