पंचायत ऑपरेटर पद में नियमानुसार नियुक्ति न होन पर शिकायतकर्ता ने की अपर मुख्य सचिव से की शिकायत

सेक्रेटरी अनामिका से बात हुई तो सेक्रेटरी ने बताया कि सोनाली के नंबर ज्यादा है इसलिए उसको रखा गया है

 
स्वतंत्र प्रभात

स्वतंत्र प्रभात 
 


 

शाहजहांपुर। जिला पंचायत विभाग में पंचायत सहायक अकाउंटेंट कम डॉट एंट्री ऑपरेटर पद हेतु आवेदन मांग रहे थे जिसमें ग्राम बनाई ब्लॉक भावल खेड़ा तहसील सदर ने अंजलि ने भी आवेदन किया था जिस पर पंचायत राज अधिकारी को शिकायत की कि मेरा आवेदन पत्र क्रमांक 3 पर कर दिया गया तथा प्रथम नंबर पर सोनाली का किया और दूसरे नंबर पर शिवानी का हुआ जिसमें अंजलि ने बताया की शिवानी अपने नानी क्या रहती है तथा उसके पिता ग्राम बबककरपुर के रहने वाले हैं।

उनके बाबा हरिश्चंद्र ने अभी तक बसियत भी नहीं की है। और शिवानी ने निवास प्रमाण पत्र जाति प्रमाण पत्र तथा आधार कार्ड बरनई गांव के नाम से बनवा लिए। जिसकी जांच के लिए ब्लॉक में भी शिकायत की गई थी जिस पर मेरे पिता के द्वारा सेक्रेटरी अनामिका से बात हुई तो सेक्रेटरी ने बताया कि सोनाली के नंबर ज्यादा है इसलिए उसको रखा गया है। तो मेरे पिताजी ने कहा कि मैं उस गांव की मूल निवासी हूं और मेरे पिताजी भी उसी गांव के निवासी हैं परंतु सोनाली कुछ ही महीनों से अपने नानी के यहां रह रही है इसलिए उसका अधिकार नहीं है क्योंकि मैं पहले से रह रही हूं मेरा जन्म भी बरनई गांव में हुआ है।

इसलिए मेरा अधिकार पहले है। दूसरे नंबर पर शिवानी है उसके परिवार ने सरकारी नौकरी पर हैं तथा प्रधान के सदस्य भी हैं। अंजलि ने इसकी शिकायत अपर प्रमुख सचिव पंचायती राज विभाग लखनऊ को भी की है अब देखना यह है कि पंचायती राज अधिकारी पवन कुमार इसमे क्या कार्रवाई करते है।

FROM AROUND THE WEB