अस्पताल में भर्ती मरीज ने फांसी लगाई।

 
अस्पताल में भर्ती मरीज ने फांसी लगाई।

स्वतंत्र प्रभात-

प्रयागराज 

धूमनगंज थाना क्षेत्र अतंगर्त झलवा क्षेत्र में निजी अस्पताल में भर्ती मरीज ने फांसी फंदे पर लटकर मौत को गले लगा लिया। कौशांबी निवासी 35 वर्षीय रमेश चंद्र ने बीमारी से परेशान होकर बुधवार को शंभूनाथ अस्पताल में फांसी लगाकर जान दे दी। इस घटना से अस्पताल परिसर में हड़कंप मचा रहा।

सूचना मिलने पर पहुंची धूमनगंज पुलिस ने छानबीन की और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस को कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस ने बताया कि कौशांबी जिले के कसेन्दा निवासी धनीराम के तीन बेटों में 35 वर्षीय रमेश चंद सबसे छोटा था। उसकी शादी नहीं हुई थी।

वह मुंबई में नौकरी करता था। लगभग दो साल पहले फैक्ट्री में काम के दौरान उसके शरीर पर कोई मशीन का पार्ट गिर गया था, जिसके कारण वह ठीक से चल नहीं पाता था। कूल्हे के दर्द से परेशान था। डॉक्टरों ने ऑपरेशन करने की सलाह दी थी।

परिजनों ने उसे नौ मई को झलवा स्थित उत्थान शंभू नाथ हॉस्पिटल में भर्ती कराया था। 12 मई को उसका ऑपरेशन होना था। बताया जा रहा है कि वह बुधवार को बाथरूम में गया और अस्पताल के ट्रेक्शन की डोर से अंदर जाली में फांसी लगाकर जान दे दी। 

FROM AROUND THE WEB