भांजी को छेड़ने का विरोध करना डॉ को पड़ा महंगा

पीड़िता ने रोते हुए बताई आपबीतीडॉ सहित उनके स्टाफ की कर दी पिटाई
 
पीड़िता ने रोते हुए बताई आपबीतीडॉ सहित उनके स्टाफ की कर दी पिटाई
पीड़ित डॉक्टर ने एसपी कार्यालय पहुंचा की फरियाद

 
 

बस्ती।

सूबे के बस्ती जिले में मनबढ़ों ने एक डॉक्टर व उनके सहयोगियों की पिटाई महज इस लिए कर दी कि डॉक्टर अपनी भांजी के साथ हो रहे छोड़छाड़ का विरोध कर बैठे। मनबढ़ों को डॉक्टर का विरोध करना इतना नागवार गुजरा कि उन्होने डॉक्टर के घर पर धावा बोल दिया, और जमकर मारपीट की, जिसे लेकर डॉक्टर अपने सहयोगियों के बृहस्पतिवार को एसपी कार्यालय पहुंचे और उन्होने अपर पुलिस अधीक्षक को आपबीती बताई।

शहर के कटरा बांसी रोड स्थित डॉ रंजीत पटेल मार्श हास्पिटल का संचालन करते हैं, उनकी 16 वर्षीय भांजी उन्हीं के पास रहकर पढ़ाई करती है। अपर पुलिस अधीक्षक को दिए ज्ञापन में डॉक्टर ने बताया कि 12 जनवरी को दोपहर तीन बजे उनकी भांजी कोचिंग जा रही थी, इसी बीच रास्ते में एक रसूखदार नेता का ड्राइवर उनकी भांजी से छीटाकसी करते हुए छेड़खानी करने लगा,

वह भागकर घर आई और आप बीती बताई। जिसके बाद वे भतीजी को संग लेकर नेजा जी के घर पहुंचे और वे ड्राईवर की शिकायत कर वापस घर लौट आए। शिकायत से नाराज होकर नेताजी कुछ देर बाद 20 से 25 लोगों को लेकर उनके घर पर धावा बोल दिए और मारपीट करते हुए भांजी को भद्दी-भद्दी गालियां दी, बताया कि जब उन्होने मारपीट का वीडियो बनाना चाहा, तो उनका मोबाइल व रूपया छीन लिया गया, बताया कि मारपीट में सहयोगी आकाश व अश्वनी को काफी चोट आई है।

कोतवाली में नहीं हुई सुनवाई

– प्रार्थना पत्र लेकर एसपी ऑफिस पहुंचे डॉ रंजीत पटेल से जब बात की गई, तो उन्होने कहा कि प्रकरण को लेकर जब वे कोतवाली पहुंचे, तो उनकी एक न सुनी गई। उन्हें कोतवाली से बैरंग लौटा दिया गया, जिसके बाद वे 13 जनवरी को एसपी से मिलने पहुंचे। उन्होने बताया अपर पुलिस अधीक्षक को कार्रवाई के लिए प्रार्थना पत्र दे दिया गया, अपर पुलिस अधीक्षक ने दोषियों पर कठोर कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

पीड़िता ने रोते हुए बताई आपबीती मौसा के साथ एसपी से शिकायत करने पहुंची पीड़िता से जब बात की गई, तो वह घटना को याद कर फफक पड़ी, रोते हुए उसने अपने साथ हो रही छेड़छाड़ की घटना को शिलशिलेवार ढंग से बताया। पीड़िता ने कहा कि संबंधित नेता का ड्राईवर उसे आए दिन छेड़ा करता था, लेकिन 12 जनवरी को उसने हदें पार कर दी, जब जाकर उसने अपने मौसा से शिकायत की।

FROM AROUND THE WEB