मजदूरों से काम ना करा कर कराया जाता है जेसीबी से नरेगा का काम

ब्लॉक के कर्मचारियों की मिलीभगत से राज वित्त व नरेगा से एक ही खरंजा पर हुआ है काम

 
मजदूरों से काम ना करा कर कराया जाता है जेसीबी से नरेगा का काम

स्वतंत्र प्रभात-
 

हलिया। विकासखंड हलिया के ग्राम पंचायत महेशपुर में नरेगा का काम मजदूरों से ना कराकर जेसीबी से कराया जाता है और अपने ही बिरादरी के लोगों के खाते में पैसा डलवा कर निकाल लिया जाता है जिससे ग्रामीणों ने आक्रोश जताते हुए बताया कि नरेगा का काम जेसीबी से कराया जाता है और अपने ही बिरादरी के लोगों के खाते में पैसा डलवा कर निकाल लिया जाता है कुछ लोगों का ऐसा है जो कि अभी तक भुगतान भी नहीं हुआ है इसमें कहीं न कहीं ब्लॉक पर बैठे कर्मचारियों की मिलीभगत है जिससे हो जाता है भुगतान फिलहाल ग्रामीणों ने आक्रोश व्याप्त है कि चुनाव जीतते ही ग्राम प्रधान के द्वारा पहले अपने ही घर पर लगाया गया इंटरलॉकिंग उसने भी किया गया है जबरदस्त खेल जोकि राज वित्त व नरेगा से कहीं इंटरलॉकिंग पर किया गया है काम ग्रामीणों ने आक्रोश जताते हुए बताया कि ग्राम प्रधान व कर्मचारियों की मिलीभगत से सिर्फ ग्राम पंचायत में लुकाछिपी का खेल चल रहा है भुगतान होता जा रहा है काम मशीन से कराया जा रहा है ग्रामीणों ने यह भी बताया कि ग्राम प्रधान ग्रामीणों को बेवकूफ बनाने का काम कर रहे हैं लेकिन ग्रामीण इतना बेवकूफ है नहीं बाकी ग्राम प्रधान के द्वारा कोटा के राशन में भी कमीशन लेकर घटौती किया जाता है ग्रामीणों ने जिला प्रशासन का ध्यान महेशपुर ग्राम पंचायत की तरफ दिलाना चाहते हैं कि ग्राम पंचायत का काम अधिकारी देखें और ग्राम प्रधान के काली करतूतों का पता ग्रामीणों को लग सके।

   

FROM AROUND THE WEB