मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में राष्ट्रीय पोषण माह के सफल आयोजन के संबंध में बैठक संपन्न

 

स्वतंत्र प्रभात

बलरामपुर कुपोषण मुक्त भारत बनाने के लिए 1 सितंबर से 30 सितंबर तक राष्ट्रीय पोषण माह का आयोजन किया जाएगा। राष्ट्रीय पोषण माह में बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग के साथ-साथ स्वास्थ्य विभाग, पंचायती राज विभाग,शिक्षा विभाग, ग्राम्य विकास विभाग एवं ग्रामीण जलापूर्ति विभाग की अहम भूमिका है। पोषण माह के दौरान प्रतिदिन विभिन्न पोषण से संबंधित गतिविधियां आयोजित की जाएंगी। इसके साथ साथ सभी ग्राम पंचायतों में पोषण पंचायत का गठन किया जाएगा जिसकी अध्यक्ष महिला ग्राम प्रधान अथवा ग्राम सभा द्वारा नामित महिला सदस्य होगी। पोषण पंचायत के सदस्यों द्वारा कम वजन के शिशु,सैम,मैम व गंभीर अल्प वजन के बच्चों का चिन्हांकन किया जाएगा एवं पोषण श्रेणी के स्तर में बदलाव पर नजर रखी जाएगी। पोषण पंचायत द्वारा अनुपूरक पुष्टाहार की गुणवत्ता एवं उसकी नियमित वितरण पर निगरानी रखी जाएगी। बैठक में यह जानकारी जिला कार्यक्रम अधिकारी निहारिका विश्वकर्मा द्वारा दी गई।
उन्होंने बताया कि 12 सितंबर को पूरे जनपद में हैंडवाश गतिविधि एवं स्वच्छता शपथ का आयोजन किया जाएगा,

13 सितंबर को प्रत्येक ग्राम पंचायतों में जल जनित बीमारियों के प्रति जागरूकता बैठक का आयोजन किया जाएगा। 15 सितंबर को समस्त आंगनबाड़ी केंद्रों पर रंगोली एवं पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन, 23 नवंबर को सभी आंगनबाड़ी केंद्रों पर एनीमिया दूर भगाओ एवं गोद भराई कार्यक्रम का आयोजन, 25 नवंबर को आंगनबाड़ी केंद्रों पर बच्चों को एवं महिलाओं के साथ योगा, 26 नवंबर को पोषण वाटिका का निर्माण एवं पौधरोपण, 27 नवंबर को जनजाति क्षेत्र में स्थानीय/ परंपरागत खाद्य पदार्थों के आधार पर रेसिपी प्रतियोगिता आदि गतिविधियां आयोजित की जाएंगी।मुख्य विकास अधिकारी संजीव कुमार मौर्य द्वारा सभी गतिविधियों को समय पर अच्छी तरह से आयोजित किए जाने, जन जागरूकता की गतिविधियां आयोजित किए जाने का निर्देश दिया गया।

ग्राम पंचायत स्तर पर कुपोषित बच्चों को चिह्नांकित करते हुए उनके स्वास्थ्य एवं पोषण पर विशेष रूप से फोकस किए जाने, थारू जनजाति क्षेत्र में विशेष रुप से फोकस किए जाने का निर्देश दिया गया।उन्होंने कहा कि सभी संबंधित विभाग दिये गये जिम्मेदारियों का अच्छी तरह से अनुपालन सुनिश्चित करेंगे।इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी गिरीश चंद पाठक, जिला पूर्ति अधिकारी कुंवर दिनेश प्रताप सिंह, समस्त सीडीपीओ व अन्य संबंधित अधिकारी/कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

 
   

FROM AROUND THE WEB