बारिश के पानी से रोड बना सैलाब, हादसे को दे रहा दावत

बारिश के पानी से उफनाई पोखरी बनी डरावनी, उक्त रास्ते से होकर आवागमन कर रहे स्कूली नौनिहाल

 
दुर्घटना को दावत देता पोखरी से सटे रोड पर स्थित जलजमाव

महराजगंज

नौतनवां ब्लाक क्षेत्र के ग्राम सभा सेवतरी में पोखरे की पानी का निकासी नहीं होने के कारण रोड पूरी तरह से सैलाब बना हुआ है, पोखरे से सड़क सटे होने के कारण सड़क पूरी तरह से डरावना साबित हो रहा है।

नौतनवां ब्लाक क्षेत्र के ग्राम सभा सेवतरी का मुख्य सड़क करीब 50 मीटर दूरी तक पूरी तरह से सैलाब बना हुआ है। बारिश के पानी से उफनाई पोखरी पूरी तरह से डरावनी बनी हुई है। ऐसे में रोड से सटा हुआ पोखरी होने के कारण आवागमन करने वालों को पोखरी और रोड का अंदाजा लगा पाना मुश्किल हो गया है।

वहीं अगर जिम्मेदार समय रहते पानी के निकासी का समुचित व्यवस्था नहीं किए तो किसी दिन बड़ी दुर्घटना घट सकती है। उक्त पोखरी व रोड एक जैसा समतल होने के कारण लोगों को अब डर सताने लगा है। वहीं रोड पर गन्दा पानी इकट्ठा होने के कारण काफी दुर्गंध उठ रहा है जिससे आस-पास निवास करने वाले लोगों में संक्रमण का खतरा बना हुआ है।

पोखरे व नाली का गन्दे पानी रोड पर पसरा

क्षेत्र के सेवतरी गांव के बीच स्थित पोखरी का जल निकासी नहीं होने से लोगों को जल सैलाब के बीच से आवागमन करना पड़ रहा है। उक्त पोखरे से गांव की नाली व घर का पानी समेत कुछ शौचालय भी जुड़ा हुआ है तथा पोखरे में गांव का कूड़ा-करकट आदि फेंका जाता है, ऐसे में पोखरी हमेशा गंदगी से भरा पड़ा रहता है, बारिश के कारण पोखरी उफनाई हुई है जिससे पोखरी का गन्दा पानी मुख्य सड़क पर जमा हुआ है। रोड पर जलजमाव होने के कारण लोगों को जलजनित बिमारियों का खतरा सता रहा है।

गंदे पानी से होकर आवागमन कर रहे स्कूली नौनिहाल

गांव के मुख्य सड़क पर गन्दे पानी का जलजमाव होने से स्कूली बच्चों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है, गांव में कम्पोजिट विद्यालय, आंगनबाड़ी केंद्र, व निजी विद्यालय का संचालन है, गांव में करीब 50 मीटर दूरी तक गन्दे पानी का जलजमाव होने से नौनिहालों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं सड़क के मोड़ पर पोखरी होने के कारण नौनिहालों के लिए खतरा बना हुआ है, ऐसे में ग्रामीणों का कहना है कि अगर किसी स्कूली बच्चे का पैर फिसला तो वह सीधे पोखरी में जाएगा और पोखरी काफी गहरा है।

ग्रामीण आदित्य कुमार, अर्जुन पाण्डेय, जनार्दन मौर्य, अखिलेश यादव, घनश्याम शर्मा, शिवपूजन, संजय वर्मा, रामजी वर्मा, रामसूरत यादव आदि ग्रामीणों का कहना है कि पोखरी से मुख्य सड़क सटा हुआ है ऐसे में बारिश के कारण पोखरी उफनाई हुई है। पोखरी के गन्दे पानी का मुख्य रोड पर जलजमाव होने से जलजनित बीमारी का खतरा सर पर मंडरा रहा है, साथ ही सड़क व पोखरी में कोई दूरी नहीं होने के कारण खतरा भी बना हुआ है।

ग्रामीणों ने बताया कि सबसे अधिक खतरा स्कूली नौनिहालों व अपरिचित आवागमन करने वाले राहगीरों के लिए है अगर किसी का पैर व कोई वाहन फिसला तो वह सीधे पोखरी में चला जाएगा, तथा पोखरी इतना गहरा व विषैला है कि किसी बचना मुश्किल है। ग्रामीणों ने उक्त पोखरे की जलनिकासी व रोड पर जलजमाव से निजात पाने की मांग की है।

   

FROM AROUND THE WEB