प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र की दुर्दशा को देखकर हैरान रह गये भाजपा नेता सी एम ओ से की शिकायत ​​​​​​​

एक हप्ते के अंदर समस्या का समाधान नही हुआ तो प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व डिप्टी सीएम से  मामले की शिकायत की जायेगी  
 
प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र की दुर्दशा  को देखकर हैरान रह गये भाजपा नेता  सी एम ओ से की शिकायत      ​​​​​​​

स्वतंत्र प्रभात  

हैदरगढ बाराबकी -प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सुबेहा पर बदहाल स्वास्थ्य सुविधाओ की पोल उस समय खुल गई जब भाजपा के किसान मोर्चा मण्डल अध्यक्ष सुबेहा महराजदीन पांडेय दवा लेने के लिये अपनी पत्नी को लेकर अस्पताल पहुच गये जहां पर देखा की अस्पताल मे चिकित्सक कक्ष की कुर्सी खाली पड़ी है और दवा कक्ष मे फार्माशिष्ट अकेले ही परचा बनाकर मरीजो को दवा वितरण कर रहे थे अस्पताल में तैनात चिकित्सक व अन्य स्टाफ की जानकारी ली गई तो उन्होने बताया की यहां पर चिकित्सक समेत सात लोगो की तैनाती है जिसमे वार्ड बॉय स्वीपर तीन लोग अस्पताल में मौजूद हैं तो वही चिकित्सक,स्टाफ नर्स , एल ए प्रतिकर अवकाश पर होने के चलते आज नही आये है इसके बाद प्रसव कक्ष मे देखा गया की बेड टूटे फूटे तितर-बितर पड़े हुए थेजानकारी करने के बाद पता चला की संसाधन का अभाव होने के चलते यहां पर वर्षो से डिलिवरी तक नही करायी गई और अस्पताल आने वाली गर्भवती महिलाओ का प्रसव एन एम दमयन्ती यादव अपने घर पर करवा रही है और सिर्फ कागजो पर

अस्पताल मे दिखाया जा रहा हैवही इमरजेन्सी मे विजली आपूर्ति के लिये कोई वयवस्था नही है काफी दिन पहले लगाए गए इनवर्टर बैटरा भी खराब पड़े थे जो कमरे की शोभा बढ़ा रहे थे वही विजली जाने के बाद कमरो मे अंधेरा हो जाता है जिससे काफी परेशानी उठानी पड रही है तो तो वही कई कमरो की छत मे पंखे तक नही है चिकित्सक के रात्रि विश्राम के लिए बने भवन भी खंडहर तब्दील होते जा रहे हैं तो वही चारो तरफ बड़ी बड़ी घास फूस का अम्बार लगा हुआ नजर आया जिसके बीच मे  एम्बुलेंस भी खराब खडी थी  चिकित्सक के लगातार सूचना देने के बाद भी वयवस्था जस की तस बनी हुई है जिम्मेदार ध्यान देना मुनासिब नही समझा यहाँ की अव्यवस्थाये देखने के बाद मण्डल अध्यक्ष का पारा गरम हो उठा और सीधे सी एम ओ को फोन लगाते हुए यहाँ की समस्याओ को अवगत कराते हुए एन एम दमयन्ती के द्वारा घर पर करायी जा रही प्रसव की शिकायत करते हुए कार्यवाही की माँग करते हुए यहां पर तैनात चिकित्सक के नियमित ड्यूटी करने तथा सभी व्यवस्थाये चुस्त दुरुस्त करने की बात कही उन्होंने कहा की यदि एक हप्ते के अंदर समस्या का समाधान नही हुआ तो प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व डिप्टी सीएम से  मामले की शिकायत की जायेगी  

   

FROM AROUND THE WEB