कई दिनों से हो रही बारिश से जहाँ जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया

एक टेम्पो असुंतलित हो कर पलट गया गनीमत रही कि टेम्पो में सवारियों की जगह स्टॉल लदा हुआ था यदि सवारियां होती तो एक बड़े हादसे से इंकार नही किया सकता था 
 
कई दिनों से हो रही बारिश से जहाँ जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया 

स्वतंत्र प्रभात 

मसौली बाराबंकी बीते तीन दिनों से हो रही बारिश से जहाँ जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है वही कच्चे मकान धरासायी हो रहे है। भारी बारिश के चलते कई स्थानों पर सड़के कट गयी हैं जिससे आवागमन में दिक्कते हो रही है।बताते चले कि इस वर्ष कम बारिश के चलते जहाँ किसान परेशान थे वही गत 15 सितम्बर से शुरू हुई लगातार बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया और सूखे पड़े पोखर, तालाब देखते ही देखते लबालब हो गये इस दौरान कच्चे मकान लसलसा कर धरासाई हो रहे है। ग्राम पंचायत नसीरनगर निवासी अशोक कुमार पुत्र रामचंद्र का कच्चा मकान बीती रात्रि अचानक धरासाई हो गया गनीमत रही कि कोई हताहत नही हुआ वही

ग्राम झलिया मजरे ईचौलिया निवासी सन्तोष वर्मा पुत्र श्रीकृष्ण छप्परनुमा मकान में परिवार के साथ रहते थे भारी बारिश के कारण बीती रात्रि छप्पर ढह गया जिसमें कीमती सामान नष्ट हो गया।   बही पक्की सड़क आवागमन बाधित लगातार बारिश के चलते उफनाये नाले नदियो की तेज धाराओं के कारण नदी के किनारे स्थित सड़के बदहाल हो गयी है भारी बहाव के कारण सड़के कट जाने के चलते लोगो का आवागमन बाधित हो गया है। मसौली से रामपुर कटरा ,सहादतगंज जाने वाली पक्की सड़क कल्यानी नदी के निकट तेज बहाव के कारण कट गयी है जिससे इस सड़क से चार पहिया वाहनों का आवागमन ठप्प हो गया है। शुक्रवार की देर शाम स्टॉल लादकर जा रहा एक टेम्पो असुंतलित हो कर पलट गया गनीमत रही कि टेम्पो में सवारियों की जगह स्टॉल लदा हुआ था यदि सवारियां होती तो एक बड़े हादसे से इंकार नही किया सकता था।

   

FROM AROUND THE WEB