अग्निपथ को लेकर बबेरू कोतवाली में सीओ व तहसीलदार ने की बैठक

- अधिकारियों ने की शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील

 
अग्निपथ को लेकर बबेरू कोतवाली में सीओ व तहसीलदार ने की बैठक

- अधिकारियों ने की शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील

बबेरु/बांदा। 

बबेरू कोतवाली पर अग्निपथ योजना को लेकर बांदा जिला अधिकारी व पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार आज बुधवार को बबेरू कोतवाली परिसर पर पुलिस क्षेत्राधिकारी व तहसीलदार की मौजूदगी पर पूर्व सैनिक व ग्राम प्रधान व गणमान्य व्यक्तियों को बुलाकर बैठक की गई है। बैठक कर अग्निपथ योजना के बारे में जानकारी दिया गया।

बबेरु कोतवाली में अग्निपथ को लेकर बांदा पुलिस अधीक्षक अभिनंदन व जिलाधिकारी अनुराग पटेल के निर्देशानुसार अग्निपथ योजना को लेकर बबेरू पुलिस क्षेत्राधिकारी सत्य प्रकाश शर्मा,तहसीलदार अजय कुमार कटियार की मौजूदगी पर बबेरू कोतवाली क्षेत्र के पूर्व सैनिक, ग्राम प्रधान व गणमान्य व्यक्तियों को बुलाकर एक बैठक की गई है। 

बैठक में पुलिस क्षेत्राधिकारी ने सभी गणमान्य व्यक्ति व ग्राम प्रधान और पूर्व सैनिकों से अपील किया है कि,जो युवा आपके घर पड़ोस और गांव में जो सेना की भर्ती के लिए तैयारी कर रहे थे, तो अग्निपथ को लेकर जो योजना सरकार व सेना के अधिकारियों के द्वारा जारी किया गया है। वह गलत नहीं है, लेकिन अन्य शहरों व अन्य प्रदेशों में अग्निपथ को लेकर युवा बवाल, उपद्रव व हिंसा फैला रहे हैं। यह पूरी तरह से गलत है। सभी युवाओं को जागरूक करने की अपील किया हैं। 

वही निर्देशित भी किया है इस संबंध में अगर कोई भी युवा अग्निपथ को लेकर प्रदर्शन और हिंसा बवाल करता है। तो उन लोगों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी वहीं पुलिस क्षेत्राधिकारी ने बताया है कि अग्निपथ को लेकर पूरे शहर में धारा 144 लगा दी गई है,जगह-जगह पुलिस कर्मी भी तैनात इसी को लेकर आज बबेरू कोतवाली पर ग्राम प्रधान पूर्व सैनिक और गणमान्य व्यक्तियों को बुलाकर एक बैठक की गई है। 

बैठक में सभी लोगों ने स्पष्ट किया है कि यहां पर किसी भी प्रकार का माहौल खराब नहीं होगा, प्रशासन का सब लोग साथ देंगे और जो युवा हैं उनको भी जागरूक करने की बात कही इस मौके पर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अरुण कुमार पाठक, क्राइम स्पेक्टर जयप्रकाश उपाध्याय,बबेरू कस्बे इंचार्ज तुषार श्रीवास्तव, ग्राम प्रधान  कमलेश कुमार वर्मा, गिरजा कांत तिवारी, मुबीन खान, अकबर हुसैन राम बिसुन श्रीवास साहित्य समस्त ग्राम प्रधान व पूर्व सैनिक मौजूद रहे।

   

FROM AROUND THE WEB