तालाबी भूमि पर ग्रामीणों का बन रहा अवैध कब्जा प्रशासन बना मूकदर्शक

राजस्व विभाग कार्रवाई से लगातार कतरा रहा है   जिससे अतिक्रमणकारियों के हौसले बुलंद हैं अब देखना है कि  विभाग इस मामले में क्या कार्रवाई करता है 
 
तालाबी भूमि पर ग्रामीणों का बन रहा अवैध कब्जा प्रशासन बना मूकदर्शक

स्वतंत्र प्रभात 

त्रिवेदीगंज बाराबंकी   प्रदेश सरकार एक तरफ सरकारी तालाबों से तत्काल अतिक्रमण हटाए जाने के आदेश समय-समय पर जारी करती है वही न्यायपालिका ने भी तालाब के अतिक्रमण तत्काल हटाए जाने का आदेश पहले ही पारित कर चुकी है। इसके बावजूद भी आम जनता तो अतिक्रमण करती ही   है यहां तो ग्राम प्रधान व उनके परिवार के सदस्य ही तालाब पर अवैध कब्जा किए हुए हैं, यही नहीं उस पर निर्माण भी बाकायदा कर रहे हैं । मामला विकास क्षेत्र   के मकनपुर गांव का है यहां तालाब की गाटा संख्या 413 पर ग्राम प्रधान व उनके परिवारी जन तथा गांव के अन्य सदस्यों द्वारा लगातार अतिक्रमण कर तालाब पाट कर उस पर कब्जा किया जा रहा है। कुछ लोगों ने टीन शेड आदि रखकर उस पर बाकायदा काबिज भी हो गए हैं।  इसकी शिकायत स्थानीय ग्रामीण द्वारा लगातार तहसील प्रशासन को की जा रही है लेकिन राजस्व विभाग की अनदेखी के चलते उस पर अभी तक कोई कार्यवाही नहीं  की गई है ।

गांव के ही राजेश कुमार अनिल कुमार सहित करीब आधा दर्जन लोगों का आरोप है कि वह  लोग कई बार तहसील व ब्लॉक में  शिकायती पत्र देकर इसकी जानकारी दे चुके हैं लेकिन विभागीय स्तर से अब तक कोई मौके पर नहीं पहुंचा है। जिससे  तालाब पर लगातार कब्जा बढ़ता जा रहा है जो जारी शासनादेश का खुला उल्लंघन है । उक्त शिकायत कर्ताओं ने जनसुनवाई पोर्टल पर एक बार फिर से शिकायत करते हुए तालाब से पैमाइश करके तत्काल अतिक्रमणकारियों का कब्जा हटाया जाए जिससे गांव के तालाब का अस्तित्व बचाया जा सके। उधर इस संबंध में जब उप जिला अधिकारी सुरेंद्र पाल विश्वकर्मा ने बताया कि उक्त मामला उनके संज्ञान में नहीं है जानकारी होने पर तत्काल कड़ी कार्यवाही की जाएगी । राजस्व लेखपाल को मौके पर भेजकर वह तालाब की पैमाइश करा कर अतिक्रमणकारियों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी। ग्रामीणों का आरोप है कि ग्राम प्रधान के रसूख के चलते

   

FROM AROUND THE WEB