मछली पकड़ने गए तीन बच्चे नदी में डूबे मौत

गोताखोरों की मदद से शव को निकाला गयास्वतंत्र प्रभात-
 
मछली पकड़ने गए तीन बच्चे नदी में डूबे मौत

स्वतंत्र प्रभात-

राम सनेही घाट बाराबंकी। टिकैत नगर के एक  गांव के पास घाघरा नदी से जुड़ी बेहवा नाला  में डूबने से तीन बच्चों की मौत हो गई। यह बच्चे तालाब में मछली पकड़ने गए थे। जब यह बच्चे शनिवार को 3 बजे निकले थे और  घर नहीं पहुंचे तो परिजनों द्वारा उनकी खोजबीन शुरू की गई। 

ग्रामीणों के साथ जब परिवार वाले बच्चों को ढूंढते हुए घाघरा नदी से जुड़ी बेहवा नाला पर पहुंचे तो वहाँ बच्चों के कपड़े व चप्पल दिखाई दिया। तुरंत गांव के लोगो ने व परिजनों ने  घटना की जानकारी  टिकैत नगर थाना प्रभारी अजय त्रिपाठी को दिया और प्रभारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और शवों को गोताखोरों द्वारा दूसरे दिन रविवार को सुबह तीनो की लाश बड़ी मशक्कत के बाद गोताखोरों ने निकाला।

ओर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल पहुंचाया। टिकैत नगर थाना प्रभारी अजय त्रिपाठी ने बताया कि  बेलखरा गांव निवासी मोहम्मद कौशेन पुत्र शाहिद 16 वर्ष ,सलाउद्दीन पुत्र सजाउदीन 11, कुतुबुद्दीन पुत्र सजाउदीन10 वर्ष , गांव के 

 बाहर  घाघरा से जुड़ी बेहवा नाला मैं मछली पकड़ने के लिए गए थे। यहां पर वे नहाने लगे और पानी ज्यादा होने के कारण डूब गए । जिन्हें गोताखोरों की  मदद से  रविवार को बाहर निकाल लिया। 

ग्रामीणों ने बताया-

गांवों के लोगों ने बताया कि बच्चे  मछली पकड़ने के लिए जाते थे ।जिन्हें लाकर उन्हें पकाकर खाते थे। शनिवार को  भी दोपहर के समय वे घर से मछली पकड़ने का कहकर निकले थे। लेकिन जब वे शाम तक घर लौटकर नहीं आए तो उन्हें चिंता हुई। पूरे गांव में ढूंढने के बाद वे जब ग्रामीणों को लेकर नाला पर पहुंचे तो उन्हें वे पानी में डूब चुके थे । तत्काल ग्रामीणों ने इस पूरी घटना की जानकारी पुलिस को दी। मौके पर सीओ राम सनेही घाट रघुवीर सिंह पहुंचे।

   

FROM AROUND THE WEB