भारतीय सांसद साथ ही उच्चतम न्यायलय को ऐसा कुछ करना होगा जिससे देश की न्यायपालिका पर आम लोगों का विश्वास कायम रहे-- राजेन्द्र प्रसाद, रिटायर्ड जज, पटना हाई कोर्ट

भारतीय सांसद साथ ही उच्चतम न्यायलय को ऐसा कुछ करना होगा जिससे देश की न्यायपालिका पर आम लोगों का विश्वास कायम रहे-- राजेन्द्र प्रसाद, रिटायर्ड जज, पटना हाई कोर्ट

पटना(बिहार) पटना हाईकोर्ट के जज जस्टिस राकेश कुमार ने बुधवार को अपने सीनियर और मातहतों की कार्यप्रणाली पर गंभीर सवाल उठाए थे, जिसके बाद गुरुवार को कोर्ट के 11 सदस्यों की बेंच ने जस्टिस राकेश कुमार के फैसले को ख़ारिज कर दिया. इस मामले पर जस्टिस राकेश कुमार ने कहा, 'मैं अपने फैसले पर अडिग हूं और मैंने वही किया जो मुझे सही लगा. अगर चीफ जस्टिस न्यायिक कार्य से मुझे हटाकर खुश हैं तो मुझे कोई आपत्ति नहीं है.'

पटना हाईकोर्ट की बेंच ने अखबारों में प्रकाशित रिपोर्ट पर स्वत: संज्ञान में लेते हुए जस्टिस राकेश कुमार के फैसले को खारिज कर दिया था. जजों ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा था कि जस्टिस राकेश कुमार ने अपने न्यायिक अधिकार क्षेत्र को पार कर दिया है और उनकी अधिकांश टिप्पणियां अनचाही और अनुचित थीं.

इस पूरे मुद्दे पर पटना हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज राजेंद्र प्रसाद ने अपनी प्रतिक्रिया दी है । उन्होंने कहा है कि इन दिनों पटना उच्च न्यायालय में जो कुछ चल रहा है, न्यायालय कार्यरत न्यायाधीशों की गरिमा के अनुकूल या प्रतिकूल है । यह बात आम लोगो के समझ में अच्छी तरह से आ रही है, न्यायालय एवं कार्रयरत न्यायधीशों से सिर्फ और सिर्फ न्याय की अपेक्षा होती है ।

माननीय न्यायधीश राकेश कुमार के आदेश और तत्रपश्चात न्यायाधीश द्वारा पारित आदेश अगर न्याय और न्यायपालिका के हित में है तो अवश्य ही अच्छी बात है और अगर ऐसा नहीं है तो भारतीय सांसद साथ ही उच्चतम न्यायलय को ऐसा कुछ करना होगा जिससे देश की न्यायपालिका पर आम लोगों का विश्वास कायम रहे ।

 

Comments