विद्यालय के सचिव के द्वारा एमडीएम राशि वितरण में की गई हेरा फेरी

प्राथमिक विद्यालय अरवाटांड के सचिव गोपाल रविदास के द्वारा बड़े पैमाने पर एमडीएम की राशि वितरण में हेरा फेरी करने का मामला प्रकाश में आया है
 
विद्यालय के सचिव के द्वारा एमडीएम राशि वितरण में की गई हेरा फेरी  ​​​​​​​

स्वतंत्र प्रभात-

जमुआ, झारखंड:-

जमुआ प्रखंड क्षेत्र के बेरहाबाद पंचायत अंतर्गत प्राथमिक विद्यालय अरवाटांड के सचिव गोपाल रविदास के द्वारा बड़े पैमाने पर एमडीएम की राशि वितरण में हेरा फेरी करने का मामला प्रकाश में आया है। अभिभावकों ने आरोप लगाते हुए बताया कि विद्यालय के सचिव के द्वारा कुछ बच्चों को 500 रुपये और कुछ छात्रों को 1000 रुपये दिए गए वहीं कुछ छात्रों को एक रुपए भी नहीं दिए गए। हालांकि सरकार द्वारा एमडीएम की राशि कक्षा 1 से 5 तक के बच्चो को 1,780 रुपये दिया जाना है लेकिन विद्यालय के सचिव के द्वारा 500 और 1000 रुपए ही वितरण कर लिती पोती कर दिया गया। 

   वहीं इस सम्बंध में अध्यक्ष ने कहा कि पिछले महीने में ही बच्चों के बीच एमडीएम की पुरी राशि को वितरित किया जाना था लेकिन विद्यालय के सचिव ने अध्यक्ष एवं सदस्यों को सूचना दिए बगैर बच्चों में अपने मनमानी तरीके से कम राशि देकर लिपा पोती कर दिया गया और एक बड़ी रकम को गबन करने के नियत से अपने पास एक महीने से दबा रखा है। जब इसकी भनक अभिभाकों एवं ग्रामीणों को लगी तो इसकी सूचना अध्यक्ष और वार्ड सदस्य को दी गई। 

   अभिभावकों ने बताया कि मामले को संज्ञान में लेते हुए अध्यक्ष ने तत्काल आवश्यकतानुसार एक बैठक बुलायी। बताया गया कि बैठक में जब समिति के अध्यक्ष, प्रबंधन समिति के सदस्ययों, अभिभावक और ग्रामीणों ने जब लेखा-जोखा किया तो 38000 रुपए की राशि सचिव के द्वारा दबाए जाने का पर्दाफ़ाश हुआ।

    ऐसे में एक बड़ा सवाल खड़ा होता है कि बच्चो में एमडीएम की राशि का वितरण किए बगैर रिपोर्ट कैसे जमा कर दिया गया है। अभिभावकगण शिक्षक की इस कार्यशैली से काफी आक्रोशित हैं 

   

FROM AROUND THE WEB