गरीबी ने ले ली एक ब्यक्ति की जान 4बच्चे हुए अनाथ ​​​​​​​

 
गरीबी ने ले ली एक ब्यक्ति की जान 4बच्चे हुए अनाथ  ​​​​​​​

स्वतंत्र प्रभात-

पोटका/पूर्वी सिंहभूम/झारखण्ड

गरीबी ने एक व्यक्ति की जान ले ली। मामला पोडाडिहा पंचायत के मुदासाई टोला भोक्ताटांगा की है। अनूप सरदार 38 वर्ष पिछले कुछ दिनों से बीमार था , जिसकी सूचना सौर्य यात्रा समीति के अध्यक्ष सूरज साहू को दिए। हल्दीपोखर स्वास्थ्य केंद्र तक ब्यक्तिगत कार से ले गए । हल्दीपोखर स्वास्थ्य केंद्र में स्वास्थ सुबिधा भगवान भोरोसे चल रहा अस्पताल से बात की गई तो बताया गया था जमशेदपुर ले जाइए यहाँ कोई ब्यबस्था नही है। एम्बुलेंस भी खराब है , मानव सेवा समिति ने एम्बुलेंस उपलब्ध कराया और एम जी एम अस्पताल में भर्ती कराया गया था , जिसे इलाज के बाद डॉक्टर ने छुट्टी दे दिया था। दवाई चल रहा था परंतु तबियत में कोई सुधार नही आया । स्वर्गीय अनूप सरदार की  पत्नी ने बताती है एम जी एम में चिकित्सा के दौरान अधिकतर दवाई बाहर से खरीदनी पड़ती थी, दवाई कीमती होने के कारण ज्यादा दिन तक वहाँ रख पाना संभव नही हो पाया । मंगलवार साम 4 बजे के करीब उनका तबियत बिगड़ने लगा , पैसा का ब्यबस्था करते करते सुबह 10 बज गया । उनको इलाज के लिए अस्पताल ले जा रहे थे कि खैरपाल पहुँचते पहुँचते उनकी जान चली गयी । हल्दीपोखर स्वास्थ्य केंद्र ले गए उन्होंने कहा जांच करने की मशीन नही है पोटका ले जाओ । तभी डॉक्टर सुकांतो सीट ने जांच उपरांत अनूप सरदार को मृत घोषित कर दिया।अनूप सरदार की बीवी रोते हुए बोली आज हमारी गरीबी ने मेरे पति की जान ले लिया।अब 4 बच्चों को कैसे पालूंगी।

   

FROM AROUND THE WEB