प्रयागराज में हुए उपद्रव तथा पथराव कांडमे कुल 68 उपद्रवी गिरफ्तार

घटना के मास्टर माइंड का करोड़ों का मकान प्रशाशन ने किया ध्वस्त
 
प्रयागराज में हुए उपद्रव तथा पथराव कांडमे कुल 68 उपद्रवी गिरफ्तार

स्वतंत्र प्रभात-

प्रयागराज में शुक्रवार की नमाज के बाद हुए उपद्रव और पथराव की घटनाओं में प्रशासन में कड़ी कार्रवाई करते हुए कुल 68 लोगों को नामजद लोगों को गिरफ्तार कर लिया है 5000 अज्ञात लोगों के विरुद्ध29 गंभीर एवं कठोरतम धाराएँ लगाते हुए मुक़दमा दर्ज हुआ है।

अब तक कुल 91 उपद्रवियों को हिरासत में लेकर कार्यवाही की जा चुकी है ।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के यहां से जारी विज्ञप्ति के अनुसार अब तक की तफ़तीश में मास्टर माइण्ड के रूप में उभरे मोहम्मद जावेद उर्फ़ जावेद पम्प के अवैध तीन मंज़िला क़रीब 5 करोड़ से अधिक क़ीमत के मकान को नियमानुसार पूरी तरह से ध्वस्त कर दिया गया।

अवैध निर्मित मकान की सर्चिंग के दौरान 02 अवैध असलाह, कई कारतूस, 01 बड़ा बाँका (चाकू) और एक काग़ज़ मिला है जिस पर  न्यायालय के खिलाफ़ तल्ख़ी भरी आपत्तिजनक टिप्पणी लिखी हुई हैं। इस पर नियमानुसार अलग से सख़्त कार्यवाही की जाएगी।क़ानून को हाथ में लेने वाले, मनमानी करने वाले, पुलिस प्रशासन पर पथराव करने वाले, पब्लिक प्रॉपर्टी का नुक़सान करने वाले, ख़ुराफ़ाती तत्वों तथा साज़िश रचने वाले लोगों को किसी भी सूरत में क़तई बख़्शा नहीं जाएग।

थाना खुल्दाबाद एवं करेली संबंधित मामला

बिना नक्शा पास कराए ही बना था अवैध कमाई से आलीशान मकान हुआ ध्वस्त।

प्रयागराज : प्रयागराज हिंसा मैं लगभग 68 लोगों की अभी तक गिरफ्तारी हुई जिसमें इस पूरी हिंसा का मुख्य आरोपी एवं मास्टरमाइंड जावेद अहमद उर्फ जावेद पंप के घर पर बुलडोजर चला मकान को बुरी तरीके से ध्वस्त किया गया 1 किलोमीटर के दायरे पर लगभग 10,000 से ज्यादा पुलिसकर्मियों को तैनात करने के बाद दोनों ओर से दो बुलडोजर के द्वारा मकान का ध्वस्तीकरण किया गया

मास्टर माइंड जावेद पंप और AIMIM जिलाध्यक्ष समेत 95 नामजद, 5000 अज्ञात 

चौकी प्रभारी रसूलपुर राजबहादुर यादव व दारोगा अरविंद कुमार की ओर से करेली थाने में रिपोर्ट लिखाई गई है इसमें कहा गया है कि ड्यूटी के दौरान शरारती और असामाजिक तत्वों ने पुलिसकर्मियों के साथ धक्कामुक्की करते हुए जान से मारने की नीयत से पत्थर व बम चलाने लगे इससे अफरा-तफरी मच गई सुनियोजित साजिश के तहत नाबालिक लड़कों को आगे करके धार्मिक विद्वेष फैलाने के मकसद से सरकारी कार्य में बाधा डालते हुए आगजनी की गई जबकि खुल्दाबाद थाने में चौकी प्रभारी अटाला दीन दयाल सिंह की ओर से मुकदमा लिखवाया गया है इसमें भी धार्मिक उन्माद फैलाने, पुलिस पर हमला, सरकारी कार्य में बाधा, आगजनी, तोड़फोड़, सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने, सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने सहित कई गंभीर आरोप लगाया गया है।

दारोगा और सिपाही की बाइक फूंकी।

करेली थाने में दर्ज रिपोर्ट में कहा गया है कि बवाल और आगजनी में सिपाही शिवप्रसाद मौर्या,शिवम अग्रवाल,दारोगा अयोध्या प्रसाद मिश्रा,अभिनव उपाध्याय की बाइक व बुलेट को फूंक दी गई डिग्गी में रखी केस डायरी व अन्य दस्तावेज जल गए।

छत से पुलिस पर की फायरिंग

चौकी प्रभारी अटाला की ओर कराई एफआइआर में बताया गया है कि उप्रदवियों ने मकान की छत से पुलिस को लक्ष्य बनाने हुए बम और गोली चलाई गई। उन्मादियों ने पुलिस वालों को काफिर कहते हुए मारने के लिए ललकारा पीएसी के जवानों का हथियार लूटने का भी प्रयास किया गया।

इन पर लिखी गई एफआइआर

फैजी, साहब, फरहान अहमद, हसीन, तौफीक, समरान अहमद, शमशाद अहमद, अयूब, राज, सहादत, जमन, सलीम शेख, अरबाज, शैफ खान, अली रिजवी, मो. नजीम, सुफियान, मोहम्मद शाहिद, मो. अफजाल, फैजान, मोहम्मद परवेज, शहनवाज, महफूज आलम, मोहम्मद सलीम उर्फ गुड्डू, मोबम्मद शाकिब, फराज, अकरम उर्फ राजू, इमरान अहमद, अकील अब्बास रिजवी, शहरयार अहमद के खिलाफ रिपोर्ट हुई है इसके अलावा सैफ, मो. रिजवान, बहारुद्दीन, मो. तौहीर, इफ्तेखार आलम, फैज खान, जावेद मोहम्मद उर्फ जावेद पंप, दिलशाद मंसूरी, रफीक पान वाला, शहनवाज, टीपू, फैज, फैजान लस्सी वाला, इमरान मिठाई वाला, भैया, डीयर, फैजान, जीशान, सैफी, शाकिब, शकलैन, माना, आरिफ, गुड्डू, कल्लू, अकबर, नजर, शानू, असद, उमर खालिद, दिलशाद चौधरी, असफाक अहमद, महमूद अहमद, इरशाद अंसारी, अली अहमद, शाह आलम, जीशान रहमानी, आशीष मित्तल को नामजद किया गया है करेली थाने में शाहब, शमरान अहमद, शहादत, सलीम शेख, अरबाज, मोहम्मद शहीद, परवेज, अकरम, अकील, जावेद मोहम्मद, शाह आलम, फजल खान, उमर खालिद, फरहान, शमशाद, अयूब, अली रिजवी, सुफियान, फैजान, इमरान, नाजिम, बदरुद्दीन,फैज खान व इफ्तार आलम के विरुद्ध मुकदमा हुआ है अधिकांश अभियुक्त करेली और खुल्दाबाद इलाके के रहने वाले हैं सबकी गिरफ्तारी हो रही है। 

   

FROM AROUND THE WEB