प्रदेश के मुख्य सचिव के आने की आहट से सफाईकर्मी पूरे दिन हांकते रहे छुट्टा जानवर ​​​​​​​

प्रशासन कोई समुचित व्यवस्था कर दे तो आए दिन पशुओं की वजह से हाइवे पर होने वाली दुर्घनाऐं रुक जाए और किसानों की फसलें भी सुरक्षित बचने के साथ ही इन जानवरों के आतंक से लोगों को छुटकारा मिल सकता है 
 
प्रदेश के मुख्य सचिव के आने की आहट से सफाईकर्मी पूरे दिन हांकते रहे छुट्टा जानवर

स्वतंत्र प्रभात 

 गोण्डा  प्रदेश के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा के आने की सूचना से दिन भर खलबली मची रही वहीं आला अधिकारी उनके स्वागत की तैयारियों में पूरे दिन जुटे रहे। फिलहाल प्रशासन की सारी तैयारियों पर पानी फिर गया। मुख्य सचिव तो आए लेकिन उनका काफिला बगैर करनैलगंज रुके सीधे गोंडा की तरफ चला गया। बताते चलें कि शनिवार को उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र को कर्नलगंज से गोंडा होते हुए बलरामपुर अन्तर्गत तुलसीपुर देवीपाटन मंदिर जाना था और इसी बीच कर्नलगंज डाक बंगले पर भी उनके रुकने की संभावना जताई जा रही थी और पुलिस प्रशासन द्वारा उनके स्वागत की पूरी तैयारी भी की गई थी। उन्हें गार्ड आफ आनर देने के लिए डाक बंगले पर पुलिस के जवान मुस्तैदी के साथ खड़े दिखे।सीडीओ तथा एएसपी सहित अन्य अधिकारी भी वहां पहुंच चुके थे लेकिन मुख्य सचिव का वाहन कर्नलगंज में न रुकने के कारण प्रशासन की सारी तैयारियों पर पानी फिर गया।

प्रशासन की तैयारी इतनी थी कि मुख्य सचिव की निगाहें कहीं नित्य हाइवे पर घूमने वाले निराश्रित पशुओं पर न पड़ जाए इसके लिए शनिवार को सुबह से शाम तक बहराइच- गोण्डा सीमा से लेकर मुख्यालय तक सफाई कर्मियों को लगाकर रोड पर पशुओं को न निकलने देने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। जिसके चलते कस्बे व ग्रामीण क्षेत्र अन्तर्गत हाइवे पर सफाई कर्मी पूरे दिन कड़ी धूप में पूरी मुस्तैदी से मौजूद रहकर निराश्रित पशुओं को हांकते दिखे। वहीं मुख्य सचिव के सीमा क्षेत्र से बाहर निकल जाने पर प्रशासन ने राहत की सांस ली। लोगों का कहना है कि रोड पर प्रायः काफी संख्या में घूमने वाले निराश्रित पशुओं के लिए यदि प्रशासन कोई समुचित व्यवस्था कर दे तो आए दिन पशुओं की वजह से हाइवे पर होने वाली दुर्घनाऐं रुक जाए और किसानों की फसलें भी सुरक्षित बचने के साथ ही इन जानवरों के आतंक से लोगों को छुटकारा मिल सकता है। 

   

FROM AROUND THE WEB