सीएचसी पर नेत्रदान पखवाड़ा गोष्ठी का आयोजन

गोष्ठी में नेत्रदान के प्रति किया गया जागरुक

 
सीएचसी पर नेत्रदान पखवाड़ा गोष्ठी का आयोजन


 

स्वतंत्र प्रभात

मलिहाबाद  लखनऊ सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर गुरुवार को अधीक्षक डा. सोमनाथ के नेतृत्व मे नेत्रदान पखवाड़ा गोष्ठी का आयोजन किया गया। इस मौके पर नेत्र परीक्षण अधिकारी राकेश कुमार ने लोगो को नेत्रदान के प्रति जागरुक किया।सीएचसी अधीक्षक ने बताया कि  मृत्यु के बाद कोई भी व्यक्ति  नेत्रदान कर सकता है। इसके लिए पहले ही संकल्प पत्र दाखिल करना होगा। मृत्यु के  बाद किसी भी व्यक्ति की आंखे छः से आठ घंटे तक दान की जा सकती है। नेत्रदान एक पवित्र दान है इसके

लिए लोगो को  ज्यादा से ज्यादा प्रेरित करना होगा। किसी भी दृष्टीहीन व्यक्ति को यह आंखे लगायी जा सकती है। वह व्यक्ति भी इस दुनिया देख सकता है।  समाज मे यह अंधविश्वास  फैला है कि  यदि मरने के बाद आपकी कोई आंखे निकाल लेता है तो वह व्यक्ति अगले जन्म मे भी अंधा पैदा होगा। यह सब केवल अंधविश्वास है नेत्रदान के प्रति सभी को जागरुक करना चाहिए।   इस गोष्ठी  मे सीएचसी के अधीक्षक , नेत्र परीक्षण अधिकारी , आंगनबाड़ी की महिलाएं, व अस्पताल का समस्त स्टाफ मौजूद रहा।

   

FROM AROUND THE WEB