तहसीलदार आवास के सामने बने उप कोषागार के गेट के पास जला दिया तमाम कागज बना चर्चा का विषय

इस स्थान पर क्यों कागज जलाए गए। रविवार सुबह तक सारे कागज़ जल गए थे 
 
तहसीलदार  आवास  के   सामने बने उप कोषागार के गेट के पास जला दिया तमाम कागज बना चर्चा का विषय

हैदरगढ़,(बाराबंकी)

 हैदरगढ़ तहसील के बगल   तहसीलदार  आवास  के   सामने बने उप कोषागार के गेट के पास  तमाम कागज जला दिए गए हैं चर्चा यह भी हो रही है कि यह कागज तहसील से गुरुवार , शुक्रवार, शनिवार 3 दिन लाकर आग लगाकर जलाए गए हैं  चर्चाएं यह भी हो रही है कि तहसील से इस स्थान पर कागज क्यों लाए गए, अगर उन्हें जलाना ही था तो तहसील के आसपास और भी भूमि थी वहां जला दिए जाते लेकिन सवालिया निशान यह उठ रहे हैं कि अन्य भूमि में जलाए जाते तो लोग देख लेते यह स्थान ऐसा है कि यहां पर 24 घंटे  होमगार्ड तैनात रहते हैं और उप कोषागार व तहसीलदार आवास की सुरक्षा करते रहते हैं यहां पर कोई बाहरी व्यक्ति चाह कर भी नहीं जा सकता है फिर इस स्थान पर क्यों कागज जलाए गए। रविवार सुबह तक सारे कागज़ जल गए थे 

  और बड़ा सा सफेद  रंग  का व हल्के काले रंग का राख का ढेर दिखाई दे रहा था जिसका किसी ने वीडियो  बनाकर वायरल  कर दिया वायरल वीडियो में सब साफ-साफ दिख रहा था और उसमें आग सुलग रही थी। लेकिन कुछ कागज बचे थे वह सुलग रहे थे बताया जाता है तहसील प्रशासन को जब कागज जलाने की चर्चाएं आम हो जाने की जानकारी मिली तो उससे पानी डालकर बुझा कर राख को साफ कर  देने आदेश दिया  था ताकि जो  के सात रिक्शा ट्राली कागजों को यहां लाकर जला देने की  चर्चाएं हो रही हैं  छिपाया जा सके। नियम यह भी है कि तहसील का कोई भी कागज बगैर बैंडिंग के आनियंत्र न जलाया जाए। लोगों द्वारा बताया यह जा रहा है कि कल सोमवार को जिला अधिकारी बाराबंकी डॉक्टर आदर्श सिंह का हैदरगढ़ तहसील का मुआयना  करने का कार्यक्रम भी संभावित है। 

 इस संबंध में उप जिलाधिकारी हैदरगढ़ सुरेंद्र पाल का कहना है कि कोई कागज जलाया गया होगा जिसके विषय में मुझे जानकारी नहीं है तहसीलदार हैदरगढ़ से आप जानकारी कर लीजिए जब तहसीलदार हैदरगढ़ शशि कुमार त्रिपाठी से उनके मोबाइल पर फोन करके जानकारी इस संबंध में की गई तो उनका कहना था कि तहसील में ऊपर छत पर  पडे  रद्दी कागज और   सफाई के दौरान निकला   कूड़ा ,कचड़ा  आदि को लाकर जलाया गया है यहां इसलिए जलाया गया है क्योंकि तहसील में जलाया जाता तो लोगों को दिक्कत होती  इसलिए यहां जला दिया गया है और जो  आग सुलग रही है उसे पानी डालकर बुझा दूंगा। इस संबंध में एडीएम बाराबंकी का कहना है हैदरगढ़ तहसील के एसडीएम से इस मामले की बात कर लीजिए जो वह कहें वह बात सही है।
 

FROM AROUND THE WEB