विवाहिता ने फांसी लगाकर आत्महत्या करने का किया प्रयास

एंबुलेंस न मिलने से ऑटो रिक्शा से लेकर भागे परिजन 
 
विवाहिता ने फांसी लगाकर आत्महत्या करने का किया प्रयास 

स्वतंत्र प्रभात 

 कुमारगंज अयोध्या पुलिस चौकी देवगांव अंतर्गत मेवापुर गांव में 26 वर्षीय विवाहिता राजवती ने घर के अंदर फांसी लगाकर आत्महत्या करने का किया प्रयास मौके पर पहुंचे परिजन आनन-फानन में उपचार के लिए अस्पताल ले गए जहां पर डॉक्टरों ने हालत गंभीर देखते हुए जिला चिकित्सालय रेफर कर दकुमारगंज थाना क्षेत्र के गांव पहाड़पुर मेवापुर निवासी 26 वर्षीया विवाहिता राजवती पत्नी राजेंद्र कुमार अपने घर के अंदर छज्जे में लगे हुक में दुपट्टा का फंदा लगाकर लटक गई।परिवार के अन्य सदस्य दूसरे मकान मैं मौजूद थे, उसी बीच विवाहिता की ननद राधा चार्जिंग में लगी मोबाइल को निकलने गई तो देखा कि भाभी दुपट्टे के फंदे से लटकी हुई है इतना देखते ही गुहार लगाते हुए वह घर से बाहर आवाज सुनकर दूसरे घर में मौजूद परिजन मौके पर पहुंचकर किसी तरीके से दुपट्टे को काटकर विवाहिता को नीचे उतारा।

उसे उपचार के लिए सीएचसी खंडासा ले गए जहां पर डॉक्टरों ने देखते ही जिला चिकित्सालय के लिए रेफर कर दिया था। लेकिन ससुर राम भरोसे उसको जिला चिकित्सालय न ले जाकर सौ शैय्या संयुक्त चिकित्सालय कुमारगंज ले आया जहां पर डॉक्टरों ने हालत गंभीर देखते ही जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया।  घरवाले अस्पताल से रेफर करने के बावजूद भी  उपचार कराने के लिए जिला अस्पताल नहीं ले जा रहे थे, अस्पताल में मौजूद डॉक्टर अनमोल पाठक ने मामले की जानकारी चौकी प्रभारी एनडीए संतोष कुमार मौर्या को दी। वह भी मौके पर पहुंचे एंबुलेंस के लिए काफी प्रयास किया लेकिन एंबुलेंस नहीं मिल सकी।फिलहाल  परिजन 108 एंबुलेंस को फोन करते रहे लेकिन एंबुलेंस उपलब्ध नहीं हो पाई जिसके चलते परिवार के सदस्य ऑटो रिक्शा से ही लेकर 40 किलोमीटर दूर जिला अस्पताल के लिए निकल पड़े।परिजनों का कहना है कि आए दिन पति पत्नी में खाना पीना बनाने को लेकर विवाद हुआ करता था आज जब घटना घटित हुई तो राजेंद्र कुमार खेत से पशुओं के लिए चारा लाने गया हुआ था। किस बात को लेकर आत्महत्या करने का प्रयास किया इसका जवाब किसी के पास नहीं रहा।

   

FROM AROUND THE WEB