पुलिस व एसओजी की संयुक्त टीम ने

तीन बांग्लादेशी सहित कुल आठ अभियुक्तों को किया गिरफ्तार
 
पुलिस व एसओजी की संयुक्त टीम ने 

स्वतंत्र प्रभात 

हरदोई पुलिस व एसओजी की संयुक्त टीम ने मुखबिर की सूचना पर तीन अंतरराष्ट्रीय, पांच अंतर्राजीय सहित आठ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। जिनमें से एक बाल अपचारी को पुलिस संरक्षण में लेकर उनके कब्जे से विभिन्न थाना क्षेत्रों से चोरी/टप्पेबाजी कर सम्पूर्ण ठग से लिये गये रूपयों में से 33,600 नगद धनराशि, एक विदेशी पासपोर्ट, नौ 50 रियाल मुद्रा व 14 मोबाइल फोन बरामद कर शातिर चोरों के गैंग का भंडाफोड़ किया। पकड़े गए शातिर अपराधी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करते हुए पुलिस ने जेल भेजने की कार्रवाई की है।=बतातें चलें रविवार को कोतवाली शहर पुलिस टीम मय एसओजी टीम कोतवाली क्षेत्र में संदिग्ध वाहन चेकिंग में कर रही थी, इसी बीच मुखबिर द्वारा खास सूचना मिली कि रेलवे स्टेशन हरदोई के माल गोदाम गेट चौराहे पर शातिर किस्म के टप्पेबाज व चोरो का गिरोह इकट्ठा होकर कही भागने की फ़िराक में है। यह गिरोह भीख मांगने का ढ़ोग कर के तथा विदेशी मुद्रा को भारतीय मुद्रा में बेचने का स्वांग रच कर लोगो के साथ ठगी करतें है।

इस सूचना पर स्थानीय पुलिस व एसओजी टीम द्वारा घेराबंदी कर मुखबिर द्वारा बताये गये स्थान मालगोदाम गेट चौराहे के निकट से कुल 09 पुरुष व महिलाओं को पकड़ लिया गया। जिनकी तलाशी में 33,600 नगद धनराशि व एक विदेशी पासपोर्ट, नौ 50 रियाल मुद्रा व 14 मोबाइल फोन बरामद किये गये। पुलिस द्वारा आरोपियों से कड़ाई से पूछताछ करने पर चन्द्रशेखर पुत्र सतीश चन्द्र निवासी ग्राम गोविंदपुर थाना किठौर जनपद मेरठ, मो0 शाहआलम पुत्र मो० तारा मियां निवासी मो० सीलमपुर दिल्ली मूल निवासी ग्राम सीलापुर थाना सीपचार जनपद मदारीपुर बांग्लादेश, मो0 खैरुल पुत्र यूनुस निवासी उल्टो डागा थाना चांद पाडा जनपद बग्गा कलकत्ता हाल पता रघुवीर विहार कालोनी आगरा, मो0 मिन्टू पुत्र सुकूर अली निवासी ग्राम लोहवन थाना जमुनापार जनपद मथुरा, आलमगीर पुत्र अब्दुल मलिक निवासी

बराकपुर थाना दिगुलिया जनपद खुलना बांग्लादेश, अफरोजा पुत्री अब्दुल मलिक निवासी बराकपुर थाना दिगुलिया जनपद खुलना, बांग्लादेश वर्तमान पता रघुवीर विहार आगरा, हामिदा पत्नी मिन्टू निवासी लोहवन थाना जमुनापार मथुरा, निली पत्नी शाहिद अली निवासी रघुवीर विहार कालोनी आगरा व एक बाल अपचारी बताया गया। पूछताछ के दौरान आरोपियों ने बताया वह सभी एक गिरोह बनाकर जिसका मुखिया चुन्नू उर्फ ठेकेदार है, यह लोग चोरी व टप्पेबाजी के काम को अंजाम देते है। सभी अपनी पहचान छिपाकर विभिन्न जनपदों

में लोगो को विदेशी एक मुद्रा रियाल को भारतीय मुद्रा में बेचने का झांसा देकर तथा अपनी महिला साथियों की मदद से महिलाओं के जेवर तथा रुपयों आदि चोरी व टप्पेबाजी करने का कार्य करते है। चोरी व टप्पेबाजी से जो भी धन प्राप्त होता है, उसे गिरोह के ठेकेदार के माध्यम से आपस में बांट लेते है। आगे पूछताछ करने पर बताया कि यह जो जामातलाशी में धनराशि व मोबाइल फोन बरामद हुये है, यह हम सभी ने जनपद हरदोई के विभिन्न थाना क्षेत्रों से चोरी व टप्पेबाजी कर अर्जित किये है, जिनमें से एक सिनेमा रोड़ के पास एक व्यक्ति का झोला काटकर, सोल्जर बोर्ड चौराहे के पास पंचर की दुकान पर एक इनोवा कार के अन्दर से

पर्स चोरी कर, बेनीगंज के एक कपड़ा व्यवसायी को नुमाइश मैदान बुलाकर रियाल मुद्रा बेचने की टप्पेबाजी कर, थाना पाली क्षेत्र में ई0 रिक्शा सवार एक महिला के गले से एक सोने की चैन चोरी कर व मारुती कार को बेचने के बहाने बिलग्राम के एक व्यक्ति के साथ टप्पेबाजी कर धनराशि अर्जित की गयी। पुलिस ने जांच में पाया गया कि इन सभी घटनाओं के संबंध में विभिन्न थाना क्षेत्र पर अभियोग पंजीकृत है। सभी लोगो को उनकी जुर्म व धारा से अवगत कराते हुये गिरफ्तार किया गया। आलमगीर पुत्र अब्दुल मलिक निवासी बराकपुर थाना दिगुलिया जनपद कुलना बांग्लादेश के विरूद्ध थाना स्थानीय पर धारा 14 विदेशी नागरिक अधिनियम पंजीकृत कर सभी को जेल भेज दिया गया। 

   

FROM AROUND THE WEB