विवाहिता की हत्या मामले में तीन गिरफ्तार, फार्मासिस्ट फरार

 
विवाहिता की हत्या मामले में तीन गिरफ्तार, फार्मासिस्ट फरार

स्वतंत्र प्रभात-

भीटी अम्बेडकर नगर।  विवाहिता की हत्या कर शव कुएं में छिपाने के मामले का पुलिस ने पर्दाफाश किया है। मुख्य आरोपी पति समेत तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। नामजद एक अन्य आरोपी कटेहरी सीएचसी में तैनात फार्मासिस्ट है जो फरार है। पुलिस उसकी तलाश में जुटी है।गौरतलब है कि बीते दिनों अहिरौली थाना क्षेत्र के कटघरवा गांव के पास तिवारीपुर मिझौड़ा मार्ग पर कुएं में एक युवती का शव पड़ा मिला था। पुलिस टीम ने शव को कब्जे में लेकर शिनाख्त कराई। उसकी पहचान गोंडा जनपद के कुड़ासन निवासी गेंदा देवी ने अपनी पुत्री रंजना के रूप में की थी। बताया था कि करीब एक वर्ष पहले उसने रंजना की शादी खीरी लखीमपुर के पलियाकला निवासी मुकेश राजभर के साथ की थी। इस बीच गत दिवस उसे जानकारी

मिली कि उसकी पुत्री का शव एक कुएं में पड़ा मिला है। अहिरौली पुलिस ने मामले में दहेज हत्या का केस दर्ज कर छानबीन शुरू की। पुलिस के मुताबिक मुकेश मिझौड़ा स्थित अकबरपुर चीनी मिल में मजदूरी करता था। यहीं पर उसकी पत्नी रंजना भी साथ रहती थी। शनिवार की सुबह गैस सिलेंडर भरवाने के लिए दोनों के बीच विवाद हुआ। शाम तक सिलेंडर नहीं भरवाने पर उनके बीच दोबारा कहासुनी हुई। पुलिस के अनुसार मुकेश कुछ दूरी पर पानी लेने चला गया। इससे क्षुब्ध रंजना ने कमरे में फांसी लगा ली।

यह देख मुकेश ने कमरे के बगल में रह रहे गोंडा जिले के बाजार व थाना मनकापुर निवासी विकास सिंह तथा स्थानीय अभय तिवारी को बुलाकर उसे फंदे से नीचे उतारा। इसके बाद तीनों बाइक से रात में ही उसे लेकर कटेहरी सीएचसी पहुंचे। वहां चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। फार्मासिस्ट को मेमो भरने की बात कहते हुए चिकित्सक दूसरे मरीज को देखने में व्यस्त हो गए। इस बीच फार्मासिस्ट ने आरोपितों से सांठगांठ कर शव को बिना लिखा-पढ़ी उनके हवाले कर दिया।

जानकारी होने पर चिकित्सक ने पुलिस को लिखित रूप से अवगत कराया। इसके बाद आरोपितों ने शव को सीएचसी से करीब डेढ़ किमी दूर तिवारीपुर-मिझौड़ा मार्ग स्थित मदनगढ़ गांव के पास कुएं में ठिकाने लगा दिया। पुलिस ने बाद में विवाहिता की मां की तहरीर पर पति समेत अन्य आरोपियों के विरुद्घ हत्या आदि धाराओं में केस दर्ज करा दिया। थानाध्यक्ष प्रदीप सिंह ने बताया कि इस मामले में आरोपी पति मुकेश, विकास सिंह व अभय तिवारी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। एक अन्य आरोपी फार्मासिस्ट की तलाश चल रही है।

   

FROM AROUND THE WEB