मामूली विवाद को लेकर दो पक्षों में हुई मारपीट सूचना पर पहुंची पुलिस ने की कार्यवाही

मामूली विवाद को लेकर दो पक्षों में हुई मारपीट सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों पक्षों से सात महिलाओं समेत दो लोगों पर की कार्यवाही
 
मामूली विवाद को लेकर दो पक्षों में हुई मारपीट सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों पक्षों से सात महिलाओं समेत दो लोगों पर की कार्यवाही

स्वतंत्र प्रभात
 मिल्कीपुर।

शाहगंज चौकी अंतर्गत कोठिया चौराहे पर बुधवार देर शाम मिट्ठू राम चौहान व सहज राम चौहान के परिजनों के बीच जमकर लाठी-डंडे व ईट चली संयोग रहा कि दोनों पक्षों के लोगों को मामूली चोटें आई

मिट्ठू लाल का आरोप है कि पड़ोस के रहने वाले सहज राम का पुत्र संजय चौहान बुधवार की शाम अपने छत पर चढ़कर मेरे घर में पत्थर की सीटकी फेंक रहे थे। घर के अंदर मेरी बेटी ललिता कड़ाही में तेल गर्म कर रही थी सीटकी कड़ाही में जाकर गिरी जिससे कड़ाही में उबलता तेल ललिताा के शरीर व आंख में पड़ गया पड़ गया।

जिसमें उसकी आंख जल गई जिसके चलते चीखने चिल्लाने लगी जिसको लेकर दोनों पक्षों के परिजनों के बीच कहासुनी होने लगी।
परिजनों ने घटना की जानकारी पीआरबी 112 पुलिस को दी रात में ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले को रफा-दफा करते हुए घायल ललिता को इलाज के लिए प्राइवेट अस्पताल परिजनों के साथ भेज दिया। इलाज कराने के बाद परिजन जैसे घर पहुंचे दोनों परिवार के लोग एक दूसरे को मारने पीटने लगे। मारपीट में दोनों पक्षों को मामूली चोटें आई।

मारपीट की सूचना पर पहुंची स्थानीय पुलिस को भी लोगों के विरोध का सामना करना पड़ा। मामला बढ़ता देख चौकी प्रभारी शाहगंज जय किशोर अवस्थी घटना की जानकारी उच्च अधकारियों को दी जानकारी मिलते ही पीआरबी 112 की 3 गाड़ियां व थाने से महिला कांस्टेबल भी मौके पर पहुंच गई जिसमें पुलिस ने एक पक्ष से पिंटू चौहान ,लक्ष्मी, सुरजा, रीता, धनाऊ व दूसरे पक्ष से सुभद्रा, सोनी, चांदनी, मिट्ठू राम को चौकी उठा लाए कार्यवाही के दौरान स्थानीय पुलिस ने क्रूरता के सारी हदें पार कर दी।

 पुलिस ने रीता चौहान के 10 माह के पुत्र ऋषभ को उससे अलग कर दिया वह बेटे को साथ ले जाने की जिद करती रही लेकिन पुलिस ने उसकी एक न सुनी और बेटा दिनभर भूख से तड़पता रहा दूसरी तरफ विक्रम चौहान की पत्नी सोनी भी पुलिस प्रताड़ना का शिकार हुई और वह अपने साथ एक वर्ष के बच्चे को थाने लेकर गई।

इस संबंध में चौकी इंचार्ज शाहगंज जय किशोर अवस्थी ने कहा कि शराब के नशे में लोग आए दिन झगड़ते रहते हैं इसके लिए मैं क्या करूं। इससे प्रतीत होता है कि शराबियों पर अंकुश लगाने में चौकी पुलिस नाकाम साबित हो रही है।वही प्रभारी निरीक्षक थाना कोतवाली इनायतनगर अमरजीत सिंह ने बताया कि दोनों पक्षों से सात महिलाओं समेत दो पुरुषों को पाबंद कर एसडीएम न्यायालय भेज दिया गया है।

FROM AROUND THE WEB