जातिगत जनगणना से 97%लोगो को लाभ। आरक्षण मुद्देपर विवाद समाप्त होंगे-ध्रुवचंद

जायसवाल ने कहा कि जाति-आधारित जनगणना से सबसे अधिक दोगुना लाभ पिछड़ों,वैश्यों, कमजोर तबके के सवर्ण लोगों को भी लाभ होगा,दलितों एवं आदिवासियों को भी वर्तमान समय में जनसंख्या में वृद्धि होने से आरक्षण का कोटा भी बढ़ेगी 
 
जातिगत जनगणना से 97%लोगो को लाभ। आरक्षण मुद्देपर विवाद समाप्त होंगे-ध्रुवचंद


 

स्वतंत्र प्रभात 

नैनी प्रयागराज  देश जाति-आधारित जनगणना होने से अनेक विवादित मुद्दे समाप्त होंगे कई समस्याओं का हल निकल आयेगा जिसकी जितनी संख्या उतनी उसकी हिस्सेदारी का फार्मूला लागू होने से 97%लोगो को लाभ होगा।18ओबीसी जातियों के एससी दर्जे की अधिसूचना हाइकोर्ट ने रद्द की उक्त आदेश अखबारों ने प्रकाशित किया इस प्रकरण पर सरकारों की अपनी अपनी रणनीति है चर्चा करने की जरूरत नहीं है।  कांग्रेस की सरकार ने जाति-आधारित जनगणना कराई किन्तु प्रकाशित नहीं किया। भाजपा ने इस मुद्दे पर कांग्रेस की घेराबंदी करते हुए पिछड़ों का विरोधी भी कहा था। मोदी सरकार खुद पिछड़ों की विरोधी हो गई है

 यह जानकारीभारतीय जायसवाल सर्ववर्गीय महासभा की इकाई प्रभारी उत्तर प्रदेश मीना जायसवाल ने दी। मीना जायसवाल ने कहा कि जाति-आधारित जनगणना से सबसे अधिक दोगुना लाभ पिछड़ों,वैश्यों, कमजोर तबके के सवर्ण लोगों को भी लाभ होगा,दलितों एवं आदिवासियों को भी वर्तमान समय में जनसंख्या में वृद्धि होने से आरक्षण का कोटा भी बढ़ेगी।

     

   

FROM AROUND THE WEB