चालीस साल मजदूरी करने के बाद लकवाग्रस्त हुआ मजदूर तो मालिक ने मुंह फेरा

 
चालीस साल मजदूरी करने के बाद लकवाग्रस्त हुआ मजदूर तो मालिक ने मुंह फेरा

स्वतंत्र प्रभात-

जमुआ /गिरिडीह /झारखंड  बेंगाबाद प्रखंड के भोजदाहा निवासी रूपन सिंह उर्फ फोदारी सिंह ने 40 से भी अधिक वर्षों तक गिरिडीह के एक अभ्रक व्यवसायी सज्जन बगेड़िया के यहां लगातार काम किया है। लेकिन लंबी उम्र तक काम करते-करते लाचार होकर लकवाग्रस्त हो जाने की स्थिति में, मजदूर की खैर-खबर लेने के बजाय उसे अपने हाल पर छोड़ दिया गया है। आज उनकी ख़बर लेने माले नेता सह अखिल भारतीय किसान महासभा के प्रदेश उपाध्यक्ष राजेश यादव भोजदाहा पहुंचे और लकवाग्रस्त रूपन सिंह समेत उनके परिजनों तथा ग्रामीणों से बात की। उन्होंने कहा कि, सरकार की गलत नीतियों के कारण मजदूरों का शोषण हो रहा है। श्री यादव ने पीड़ित मजदूर का समुचित इलाज कराने तथा 40 साल तक काम करने के एवज में मिलने वाले समस्त पावनों का भुगतान करने की मांग करते हुए कहा कि, यदि मजदूर को न्याय नहीं मिला तो, हम आंदोलन करने को बाध्य होंगे। स्थानीय मुखिया राजेंद्र वर्मा ने भी मजदूर के साथ पूरी एकजुटता दिखाते हुए मजदूर का हक नहीं मिलने पर जोरदार आंदोलन की बात कही। मौके पर अन्य लोगों के अलावा मुखिया राजेंद्र वर्मा, मुस्लिम अंसारी, गाजो सिंह, बासदेव सिंह, अनवर अंसारी, महबूब अंसारी, मथुरा सिंह, मो. हकीम, संजय यादव, सलामत अंसारी, शफीक, विष्णु सिंह, देवी सिंह, रियाज, चिंतामन सिंह, सलीम मियां, कमरुद्दीन अंसारी आदि मौजूद थे।

   

FROM AROUND THE WEB