कदौरा क्षेत्र बॉलू घाट माफियाओं की मनमानी सिस्टम के तहत जारी ओवरलोड व एनआर

 
कदौरा क्षेत्र बॉलू घाट माफियाओं की मनमानी सिस्टम के तहत जारी ओवरलोड व एनआर

हाइवे किनारे माफिया छोटे छोटे डंफ लगाकर सब्जी भाजी की तरह बेंच रहे बॉलू

प्रसाशन की लगातार कार्यवाही के बावजूद राजस्व को चूना लगा रहे माफिया

शाम ढलते ही सैकड़ो ओवरलोड ट्रक लोकेशन की दम पर भरते है फर्राटे

उरई (जालौन)


 शाशन के सख्त निर्देश पर प्रसाशन द्वारा ओवरलोड व अवैध खनन पर लगाम लगाने की कवायद जारी है जिसके तहत समय समय पर कार्यवाही भी जारी है लेकिन बॉलू माफियाओं पर उक्त कार्यवाही बेअसर साबित हो रही है जिसके चलते कदौरा क्षेत्र संचालित बॉलू घाटों पर कोर्ट के नियमो के विरुद्ध संचालन करते हुए ओवरलोड व एनआर सिस्टम को बढ़ावा देकर राजस्व चोरी को अंजाम दिया जा रहा है।

साथ ही कुछ लोकेशन माफियाओ द्वारा सिस्टम जोड़ कर एनआर बॉलू से छोटे छोटे डंफ हाइवे किनारे लगाकर ट्रैक्टरों से बॉलू सब्जी भाजी की तरह बेंची जा रही है गौरतलब हो कि कदौरा क्षेत्र बड़े पैमाने पर संचालित बॉलू घाटों पर  संचालको द्वारा कोर्ट के नियमो को दरकिनार करते हुए नियमो का उल्लंघन किया जा रहा जिसके तहत घाट संचालको द्वारा नदी से खनन व एनआर सहित ओवरलोडिंग जैसे अवैध कार्यो को अंजाम देकर राजस्व चोरी को अंजाम दिया जा रहा है जिसमे अधिकारियों से बचने के लिए जगह जगह लोकेशन माफियाओं का जाल फैलाये हुए है 

हाइवे किनारे माफिया छोटे छोटे डंफ लगाकर सब्जी भाजी की तरह बेंच रहे बॉलू

जो कि जलालपुर चतेला रोड से लेकर मोड़ तक जगह जगह हाइवे किनारे होटलों में अधिकारियों की मुखबिरी देते है जिसमे कुछ मुखबिर खुद सड़क किनारे छोटे छोटे बॉलू डंफ लगवाकर बॉलू ट्रैक्टरों से बेचने का कार्य किया जाता है साथ ही क्षेत्रीय बॉलू घाट संचालक पट्टा भूमि के इर्द गिर्द पड़ी भूमि पर भी खनन करते है वही कदौरा से शाम ढलते ही सिस्टम वाले ट्रॅक ओवरलोड होकर फरर्राटे भरते देखरे जाते है जिससे न कि सिर्फ सड़के क्षतिग्रस्त होती है बल्कि भागमभाग के कई एक्सीडेंट तक होते है

 वर्तमान समय मे उक्त क्षेत्र में ओवरलोड व एनार से राजस्व चोरी का खेल बड़े पैमाने पर जारी है।और उक्त ट्रकों को प्रसाशन का कोई डर भी नःही क्यो उक्त लोग खुद को एंट्री व सिस्टम के तहत उक्त अवैध कार्य को अंजाम दिया जा रहा है जिनहे ये लगता है कि उनकी एंट्री जमा है उन पर प्रसाशनिक कार्यवाही का कोई भय ही नःही है।

 

FROM AROUND THE WEB