राम मंदिर के गर्भगृह पर खंभे लगाने का कार्य शुरू, 50 फिट मोटी नींव पर मंदिर का प्लिंथ निर्माण पूरा।

 रामलला के भव्य मन्दिर निर्माण को लेकर पीएम मोदी द्वारा 5 अगस्त 2020 को किए गये
 
 रामलला के भव्य मन्दिर निर्माण को लेकर पीएम मोदी द्वारा 5 अगस्त 2020 को किए गये

स्वतंत्र प्रभात 

अयोध्या 

 रामलला के भव्य मन्दिर निर्माण को लेकर पीएम मोदी द्वारा 5 अगस्त 2020 को किए गये शिलापूजन के दो साल  बाद अब राम मंदिर की इमारत अपना स्वरूप लेने लगी है। मंदिर निर्माण के काम में लगे इंजीनियर्स और मजदूर लगातार रामलला के भव्य मंदिर को मूर्त रूप देने में जुटे हैं। मंदिर की नींव के बाद  गर्भगृह का निर्माण कार्य तेजी से कराया जा रहा है।  शुक्रवार को श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने मीडिया को निर्माण कार्य देखने के लिए परिसर में बुलाया और पत्रकारों से निर्माण कार्य पर जानकारी साझा की। बताया गया कि मंदिर का सुपर स्ट्रक्चर बनकर तैयार हो गया नींव और चबूतरा पहले से बनकर तैयार हैं। मंदिर के गर्भगृह पर खंभे लगाने का कार्य भी शुरू कर दिया गया है। मंदिर का ग्राउंड फ्लोर दिसंबर 2023 तक बनकर तैयार होना है। भक्तों को मंदिर के पूरे स्वरूप के दर्शन फरवरी 2024  तक हो सकेंगे। इस दौरान श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय, विहिप के प्रांतीय मीडिया प्रभारी शरद शर्मा रंग महल बैरियर पर खुद मौजूद रहे। चंपत राय ने बताया कि इस समय मंदिर के गर्भगृह, प्लिंथ और रिटेनिंग वॉल का निर्माण तेजी के साथ चल रहा है।

राम मंदिर ट्रस्ट के सदस्य डॉ. अनिल मिश्रा ने बताया कि मंदिर अभेद्य होगा, लगभग 50 फीट मोटी नींव पर मंदिर का प्लिंथ निर्माण करीब पूरा हो चुका है। उन्होंने बताया कि श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण स्थल का दर्शन करने के लिए विगत 1 जून 2022 को अवसर प्रदान किया गया था उसके बाद आज भूमिपूजन के दो वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में मीडिया कर्मियों के माध्यम से श्रीराम जन्मभूमि निर्माण की अद्यतन प्रगति से सभी रामभक्तों एवं श्रद्वालुओं को अवगत कराने का उद्देश्य है। श्रीराम जन्मभूमि निर्माण स्थल के दर्शन के दौरान निर्माण एजेंसी के पदाधिकारियों द्वारा मीडिया कर्मियों को अद्यतन प्रगति, निर्माण पूर्ति की तिथि आदि के बारे में विस्तृत जानकारी दी गयी तथा निर्माण से सम्बंधित नक्कासी, पत्थरों की कटिंग एवं ढलाई आदि कार्यो की अद्यतन स्थिति के बारे में भी जानकारी दी गयी। उक्त अवसर पर श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के वरिष्ठ पदाधिकारी एवं मंदिर से जुड़े अन्य गणमान्य व्यक्ति, श्रीराम जन्मभूमि क्षेत्र के शरद शर्मा, राम शंकर, गोपाल जी, धर्मवीर, प्रेम त्रिपाठी, गिरीश चन्द्र, एलएनटी से जुड़े विनोद मेहता, विनोद शुक्ला एवं विनोद सिंह, आरएमओ श्री अर्जुन देव सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण भी उपस्थित रहे। 

   

FROM AROUND THE WEB