दस वर्षों से कीचड़युक्त सड़क पर चल रहे ग्रामीण, नहीं ध्यान दें रहे अधिकारी

 
दस वर्षों से कीचड़युक्त सड़क पर चल रहे ग्रामीण, नहीं ध्यान दें रहे अधिकारी

स्वतंत्र प्रभात

कोरांव  प्रयागराज

विकासखण्ड कोरांव के दो ग्रामसभाओं के बीच कीचड़युक्त सड़क पर चलने को मजबूर हुए ग्रामीण। बताते चलें कि बढ़वारी कलां एवं सेमरी बाघराय दो ग्रामसभाओं के बीच महादेव गांव के ग्रामीण लगभग दस वर्षों से बारिश के मौसम में घुटनेभर पानी से गुजरने को मजबूर रहते हैं। सुग्रीव प्रजापति, नीरज दुबे, लाल बहादुर पाल, रामगोपाल पाल, रामधनी पाल, मेवालाल, दयाशंकर दुबे, अमृत लाल पाल आदि ग्रामीणों ने बताया कि वह बारिश के महिने में सड़क के अभाव में अपने दो पहिया एवं चार पहिया वाहनों को अपने घर न ले जाने के बजाय अन्यत्र जगहों पर खड़ा करते हैं।

उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं स्कूल जाने वाले बच्चे कभी कभी कच्ची सड़क पर भरे घुटनेभर पानी से गुजरने में गिर जाया करते हैं और अपने स्कूल तक भी नहीं पहुंच पाते साथ ही साथ कीचड़ और पानी के भरे होने के कारण विशैले जीव-जंतुओं का भी भय बना रहता है। दसों वर्ष बीत गए किंतु दोनों ग्रामसभाओं के न तो प्रधान उक्त सड़क की ओर ध्यान दिए और न ही जिम्मेदार अधिकारी। ऐसी स्थिति में ग्रामसभाओं के विकास के लिए आने वाले लाखों करोड़ों के धन को जमीनी विकास कराने के बजाय खुद ग्राम प्रधान और जिम्मेदार अधिकारी अपना विकास करने की फिराक में लगे रहते हैं। ग्रामीणों ने उच्चाधिकारियों का ध्यान इस ओर आकृष्ट कराते हुए उक्त सड़क के निर्माण की मांग किया है। 

   

FROM AROUND THE WEB